1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. garhwa
  5. the number of corona infects in garhwa district has reached close to 500

घरों में ही सजग रहें, सुरक्षित रहेंगे

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
  • 14 नये कोरोना मरीजों के साथ संक्रमितों की संख्या 485

  • स्वास्थ्यकर्मियों को भी सुरक्षित रह कर काम करने की दी गयी सलाह

गढ़वा : गढ़वा जिले में कोरोना संक्रमितों की संख्या 500 के करीब पहुंच गयी है. इसमें चिंताजनक स्थिति यह है कि जितनी संख्या में कोरोना के मरीज मिल रहे हैं, उस अनुपात में कोरोना मरीज ठीक नहीं हो रहे है. कई लोगों का दूसरा जांच भी पॉजिटिव आने की वजह से सक्रिय मरीजों की संख्या कम नहीं हो रही है. शुक्रवार की शाम को जिले में 14 नये कोरोना संक्रमितों की पहचान की गयी है.

जबकि मात्र नौ लोग ही संक्रमण से मुक्त होकर अस्पताल से घर लौटे है़ं इस प्रकार गढ़वा में कोरोना संक्रमितों की कुल संख्या 485 हो गयी है़ जबकि ठीक होनेवालों की संख्या 332 है़ जिले में कोरोना संक्रमित सक्रिय मरीजों की संख्या 151 है़ सभी सक्रिय मरीजों को इएलाज के लिए प्रखंड व जिलास्तर पर बनाये गये कोविड अस्पतालों में रखा गया है. शुक्रवार को संक्रमित पाये गये कोरोना के मरीजों में एक और चिंताजनक बात यह है कि इसमें दो मरीज सदर अस्पताल गढ़वा के कर्मी है़.

अस्पताल कर्मी के संक्रमित होने की स्थिति में स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया है. यद्यपि यह पहला मौका नहीं है जब अस्पतालकर्मी भी संक्रमित हुए हो़ इसके पहले भी अस्पताल कर्मी संक्रमित हुए है़ं लेकिन वर्तमान समय में जब मरीजों की संख्या जिले में तेजी से बढ़ रही है, वैसी स्थिति में सदर अस्पताल कर्मियों के संक्रमित होने से सैंपल कलेक्शन व जांच प्रभावित हो सकती है़ इसके अलावा जो अन्य कोरोना संक्रमित पाये गये हैं, उनमें तीन कैदी भी शामिल है़.

इसके अलावा गढ़वा प्रखंड के पचपड़वा गांव की चार महिलाएं, श्रीबंशीधर नगर का एक व्यक्ति, एक बैंककर्मी, दो सीआरपीएफ के जवान तथा एक सगमा प्रखंड के कटहलकला गांव का रहनेवाला व्यक्ति शामिल है. इस संबंध में सिविल सर्जन डॉ एनके रजक ने बताया कि कोरोना का संक्रमण सदर अस्पताल के चिकित्साकर्मियों में भी फैलने लगा है़ ऐसे में चिकित्सक व चिकित्साकर्मी को भी सुरक्षित रह कर काम करने की आवश्यकता है़ वे सुरक्षित रहेंगे, तभी सभी लोगों का समुचित इलाज कर पायेंगे़ सिविल सर्जन ने कर्मियों को भीड़-भाड़ से बचते हुए पूरी सुरक्षा के साथ मरीज का इलाज करने की सलाह दी है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें