28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

JAC 10th-12th Exam: एग्जाम सेंटर पर काम नहीं रहे CCTV कैमरे, गढ़वा में कैसे होगी कदाचारमुक्त परीक्षा?

मैट्रिक व इंटर के लिये जिले में 50 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. मैट्रिक के 26,056 और इंटर के 17,307 परीक्षार्थी भाग लेंगे. जिले के करीब सभी प्रखंडों में परीक्षा केंद्र देने का प्रयास किया गया है. जिले के सबसे बड़े गोविंद उच्च विद्यालय में वर्तमान समय में एक भी कमरे में CCTV कैमरे फंक्शनल नहीं है.

गढ़वा, पीयूष तिवारी : गढ़वा जिले में 14 मार्च से मैट्रिक व इंटरमीडिएट की परीक्षायें शुरू होनेवाली है. कदाचारमुक्त परीक्षा के लिये परीक्षा केंद्र के सभी कमरों में सीसीटीवी कैमरे लगाने का निर्देश जैक के अलावे स्थानीय जिला शिक्षा पदाधिकारी की ओर से भी जारी किया गया है. लेकिन परीक्षा शुरू होने में मात्र तीन दिन का समय शेष रहने के बाद भी जिले के कुछेक केंद्रों को छोड़कर शेष सभी सरकारी विद्यालय परीक्षा केंद्र में यह फंक्शनल नहीं है. प्रत्येक साल परीक्षा एवं चुनाव के समय ही विद्यालयों में सीसीटीवी कैमरे लगाने की सुध होती है. लेकिन इसके लिये जैसे-तैसे खानापूर्ति ही की जाती रही है.

जिले में बनाये गये कुल 50 परीक्षा केंद्र

इस बार भी मैट्रिक व इंटरमीडिएट के लिये जिले में कुल 50 परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. यहां मैट्रिक के 26,056 तथा इंटरमीडिएट के 17,307 परीक्षार्थी परीक्षा लिखेंगे. जिले के करीब-करीब सभी प्रखंडों में परीक्षा केंद्र देने का प्रयास किया गया है. जिले के सबसे बड़े गोविंद उच्च विद्यालय में वर्तमान समय में एक भी कमरे में सीसीटीवी कैमरे फंक्शनल नहीं है. इस विद्यालय में मैट्रिक व इंटरमीडिएट दोनो का परीक्षा केंद्र बनाया गया है. विद्यालय के कुल 15 कमरों में परीक्षा ली जानी है.

‘अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता’

प्राचार्य ध्रुव नारायण झा ने बताया कि छह-सात कमरों में सीसीटीवी कैमरे का तार दुरूस्त कराये जाने से वे सभी फंक्शनल किये जा सकते हैं. लेकिन शेष कमरों के बारे में अभी कुछ भी नहीं कहा जा सकता है. जबकि बालिका उच्च विद्यालय के 14 कमरों में परीक्षायें ली जानी है. विद्यालय के प्राचार्य रेयाज अहमद ने दावा किया कि उनके विद्यालय में सीसीटीवी कैमरे सभी कमरों में सक्रिय कर लिये गये हैं.

भंडरिया उवि में सीसीटीवी कैमरे खराब

भंडरिया : भंडरिया में मैट्रिक परीक्षा को लेकर दो परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं, इसमें राजकीयकृत प्लस टू उच्च विद्यालय भंडरिया एवं प्रोजेक्ट कन्या उच्च विद्यालय भंडरिया है. कन्या उच्च विद्यालय के केंद्राधीक्षक वीरेंद्र तिवारी ने बताया कि उनके विद्यालय में 305 छात्र छात्रायें परीक्षा में शामिल होंगे. इसमें राजकृत उच्च भंडरिया बड़गड़ एवं कुरुण के विद्यार्थी शामिल होंगे. सभी के लिये बेंच-डेक्स की पर्याप्त व्यवस्था है. वहीं सीसीटीवी कैमरा सभी अच्छे से काम कर रहे हैं. जबकि राजकृत उच्च विद्यालय भंडरिया के केंद्राधीक्षक शशिकांत राम ने बताया कि उनके विद्यालय में भी पर्याप्त बेंच-डेस्क उपलब्ध हैं. कुछ सीसीटीवी कैमरा खराब है जो बनाने के लिये विभाग को जानकारी दी गयी है. एक साल से सीसीटीवी कैमरे खराब पड़े हैं.

Also Read: JAC 10th-12th Exam: साहिबगंज में मैट्रिक-इंटर के 20 हजार से अधिक परीक्षार्थी 46 परीक्षा केंद्रों पर देंगे Exam
पूर्व की परीक्षा के बाद से बंद पड़े है सीसीटीवी कैमरे

रमकंडा : स्तरोन्नत उच्च विद्यालय रमकंडा में बनाये गये सेंटर में बेंच डेस्क परीक्षार्थियों के अनुरूप उपलब्ध है. जबकि सीसीटीवी कैमरा पूर्व की परीक्षा के बाद से बंद पड़ा हुआ है. इसकी मरम्मत कराने का काम शुरू कर लिया गया है. रमकंडा में परीक्षा शुरू होने से पहले सभी तरह की व्यवस्था को सुदृढ़ करने की बात केंद्राधीक्षक हर्ष ज्योति शुक्ला ने कही है.

सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था नहीं

बड़गड़ : परियोजना प्लस टू उच्च विद्यालय बड़गड़ में मैट्रिक परीक्षा केंद्र पर प्रखंड के स्तरोन्नत उच्च विद्यालय बोडरी एवं स्तरोन्नत उच्च विद्यालय मरदा के छात्रों के लिये परीक्षा केंद्र बनाया गया है. इसमें कुल 114 छात्र-छात्रायें परीक्षा में शामिल होंगे. केंद्राधीक्षक द्रौपदी मिंज ने बताया कि विद्यालय में परीक्षा के सफल संचालन के लिये बेंच – डेस्क पर्याप्त उपलब्ध है. लेकिन सीसीटीवी कैमरे की व्यवस्था नहीं की गयी है. पूर्व में भी अगले वर्ष के मैट्रिक परीक्षा में सीसीटीवी कैमरे नहीं लगाये गये थे. केंद्राधीक्षक ने कहा कि विभाग द्वारा निर्देशित है कि वीक्षक ही सीसीटीवी कैमरे का काम करेंगे.

सीसीटीवी कैमरे फंक्शनल नहीं

भवनाथपुर : भवनाथपुर में मैट्रिक परीक्षा को लेकर चार परीक्षा केंद्र बनाये गये हैं. राजकीयकृत पल्स टू विद्यालय में सीसीटीवी कैमरा लगाया गया है. परीक्षा के समय इसे चालू कराया जायेगा. बेंच डेस्क उपलब्ध है. परियोजना बालिका उच्च विद्यालय सीसीटीवी लगे हैं, लेकिन फंक्शनल नहीं हैं. इसे दुरूस्त करा लिया जायेगा. मध्य विद्यालय मकरी में सीसीटीवी कैमरा दुरुस्त है. लेकिन बेंच डेस्क पर्याप्त मात्रा में नहीं है. केंद्राअधीक्षक मिथिलेश कुमार दुबे ने झगराखांड विद्यालय से लाकर इसकी पूर्ति की है. बुनियादी विद्यालय में सीसीटीवी है लेकिन खराब पड़ा हुआ है. केंद्राधीक्षक अंकित त्रिवेदी ने बताया कि चालू हालत में नहीं है उसे बनवाने को लेकर कई बार मीटिंग में शिकायत की है लेकिन ध्यान नहीं दिया गया है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें