27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बेटी की डोली निकलने से पहले घर से निकली पिता की अर्थी

बेटी की डोली निकलने से पहले घर से निकली पिता की अर्थी

सगमा प्रखंड के पुतुर गांव में बुधवार की शाम वज्रपात की घटना में सदानंद यादव की मौत हो गयी. इस हृदयविदारक घटना से सदानंद यादव के परिवार सहित पूरे पुतुर गांव में मातम छा गया है. घर में सदानंद की बेटी की शादी की तैयारी चल रही थी. पर बेटी की डोली निकलने से पहले घर से पिता की अर्थी निकली. उनकी मौत ने सभी को हिलाकर रख दिया है. प्रकृति के इस कहर से घर में शादी की खुशी का माहौल गम मेें बदल गया है.

विदित हो कि इस इलाके में बुधवार की शाम मॉनसून की पहली बारिश हुई है. इसी दौरान शाम करीब छह बजे सदानंद यादव अपने सिर पर शीट लेकर खरकटवा से अपने घर आ रहे थे. वह अपने घर से महज 200 मीटर दूर थे. इसी बीच हल्की बारिश के साथ सदानंद यादव के पास ही वज्रपात हुआ तथा वह इसकी चपेट में आकर घायल हो गये. स्थानीय लोग एवं परिजन उन्हें निजी वाहन से हॉस्पिटल ले गये, लेकिन वहां चिकित्सकों ने सदानंद को मृत घोषित कर दिया. इसकी खबर मिलते ही परिजनों की चीख-पुकार से पूरा माहौल गमगीन हो गया. घटना से सारे लोग हतप्रभ थे.

बेटी की थी शादी : बताया गया कि सदानंद की चार लड़कियां हैं. इनमें तीन की शादी पहले हो चुकी थी. सबसे छोटी बेटी की शादी गांव के बगल में सगमा में सिकंदर यादव के पुत्र से तय हो चुकी थी. शादी नौ जुलाई को होनी थी. घर में इसकी तैयारी हो गयी थी. ग्रामीणों ने बताया कि सदानंद सीधे-सादे व्यक्ति थे. घटना की सूचना मिलने पर पूर्व जिप सदस्य नंद गोपाल यादव, मुखिया पति हनुमंत यादव, देवचंद यादव व तिलकधारी यादव सहित काफी लोग मृतक के घर पहुंचे और शोक-संवेदना व्यक्त करते हुए परिजनों को ढांढस बंधाने का प्रयास किया.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें