27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

डुमरिया : 12 ग्रामीणों की जांच में छह मलेरिया से पीड़ित मिले

भीतरआमदा के चांगुचटानी में पहुंची जिला मलेरिया विभाग की टीम, रानीझरना नहीं पहुंच सकी टीम, यहां भी फैली है मलेरिया

डुमरिया. डुमरिया प्रखंड के भीतरआमदा गांव स्थित चांगुचटानी टोला में शनिवार को जिला मलेरिया विभाग की टीम पहुंची. टीम संदिग्ध 12 लोगों की मलेरिया जांच की. इनमें 6 लोग मलेरिया पॉजिटिव पाये गये. इनमें 25 वर्षीय सुमी सबर, 14 वर्षीय हीरामनी सबर, 12 वर्षीय गुरुवारी सबर, 3 वर्षीय शंभू सबर, 3 वर्षीय किसनु सबर और 35 वर्षीय दुर्गा सबर शामिल हैं. जांच टीम में डॉ अशरद, श्रवण कुमार, सुशील तिवारी, दीपक कुमार, मृगेन कुमार, सुकराम माहली आदि शामिल थे. हालांकि, जिला मलेरिया जांच टीम रानीझरना नहीं पहुंची. भीतरआमदा गांव के रानीझरना टोला के बांका सबर के पुत्र की मौत बीते 13 जून को मलेरिया के कारण हो गयी थी. आनन-फानन में दूसरे दिन 14 जून को डुमरिया सीएचसी की टीम ने गांव के 88 लोगों की मलेरिया जांच की. इसमें 40 लोग मलेरिया पॉजिटिव पाये गये थे. इसके बाद 15 जून को माडोतोलिया गांव से 11 लोग बुखार की शिकायत पर सहिया के साथ डुमरिया सीएचसी पहुंचे थे. इनमें 7 लोग मलेरिया पॉजिटिव पाये गये थे. 21 जून को कस्तूरबा विद्यालय से 6 छात्रा बुखार की शिकायत पर डुमरिया सीएचसी पहुंची थीं. इसमें तीन मलेरिया पॉजिटिव पायी गयीं. इस तरह डुमरिया प्रखंड में मलेरिया का प्रकोप बढ़ रहा है. मलेरिया नाशक पाउडर का छिड़काव भी अबतक विभाग ने नहीं किया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें