26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

दुमका सेंट्रल जेल गेट पर फायरिंग मामले का पुलिस ने किया खुलासा, हथियार सहित 4 आरोपी गिरफ्तार

दुमका सेंट्रल गेट पर फायरिंग मामले में पुलिस ने खुलासा किया है. इस मामले में हथियार सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार किया गया. पूछताछ में आरोपियों ने माहौल बिगाड़ने और सुनियोजित तरीके से घटना को अंजाम देने की जानकारी पुलिस को दिया.

Jharkhand News: दुमका सेंट्रल जेल गेट पर फायरिंग मामले का पुलिस ने खुलासा किया है. पुलिस ने हथियार सहित चार आरोपियों को गिरफ्तार किया है. पुलिस की पूछताछ में आरोपियों ने सुनियोजित तरीके और माहौल बिगाड़ने के उद्देश्य से घटना को अंजाम दिया था.

क्या है मामला

दुमका सेंट्रल जेल के मुख्य गेट पर दो दिसंबर, 2022 को अज्ञात अपराधियों ने फायरिंग किया था. इस घटना के बाद अनुसंधान एवं छापेमारी के लिए एसपी ने एसआईटी का गठन किया गया. एसआईटी टीम द्वारा लगातार अनुसंधान एवं छापेमारी करते हुए विभिन्न अपराध कर्मियों से पूछताछ करते हुए धनबाद जिला तथा दुमका जिला के अपराध कर्मियों पर लगातार छापेमारी की गई. अनुसंधान एवं छापेमारी के क्रम में तीन जनवरी, 2023 को छापेमारी कर दुमका में साहिबगंज के गोविंदपुर हाईवे से पूर्व दुमका रेलवे स्टेशन के पास कुरवा डंगाल में चार अपराध कर्मियों को पिस्तौल, गोली और बिना नंबर के कार के साथ गिरफ्तार किया है.

माहौल बिगाड़ने की थी कोशिश

सभी गिरोह के सदस्य दुमका का माहौल बिगाड़ने तथा दुमका को गर्म करने का प्लानिंग करने की बात आपस में करते थे. इसी के तहत साजिश करके एवं पूरी योजना के तहत धनबाद के कुछ अपराधकर्मी दुमका आकर अन्य अपराध कर्मियों से मिले. इसी के आधार पर अपराध कर्मियों ने दुमका जेल गेट में फायरिंग किया. यह प्रक्रिया अगस्त माह में ही शुरू की गई थी. इसी के तहत 19 सितंबर, 2022 को बाइक से सुबह चार बजे के करीब दुमका केंद्रीय कारा के पास एक झोला में कुछ पत्थर का टुकड़ा तथा धमकी भरा पत्र लिखकर झोला में डालकर दुमका जेल के मुख्य गेट पर फेंका गया तथा पूरी साजिश के तहत उसी दिन वीआईपी आवास के पास एक व्यक्ति को गोली मारा गया, जो रामगढ़ थाना में पदस्थापित पुलिसकर्मी था.

Also Read: गिरिडीह पुलिस को मिली बड़ी सफलता, नक्सलियों के खिलाफ सर्च अभियान के दौरान दस हैंड ग्रेनेड बरामद

पूरी साजिश के तहत की गयी थी फायरिंग

इन दोनों संबंध में दुमका नगर थाना कांड संख्या 222/2022 तथा 224/2022 अंकित किया गया, इन्हीं अपराध कर्मियों द्वारा पूरी साजिश के तहत करीब डेढ़ महीने के बाद दुमका केंद्रीय कारा के समक्ष मुख्य गेट पर शाम के 05:30 बजे के करीब फायरिंग किया गया था. ये सभी दुर्दात अपराधी कर्मी तथा एक गिरोह के रूप में काम करते हैं और भय का माहौल दिखाकर रंगदारी तथा वसूली का काम करना चाहता है. जिसमें दुमका के साथ-साथ शिकारीपाड़ा का औद्योगिक क्षेत्र एवं रोड पर भी वसूली करने का प्रयास करता है.

इन आरोपियों की हुई गिरफ्तारी

पुलिस ने सेंट्रल जेल गेट पर फायरिंग मामले में दुमका स्थित शिकारीपाड़ा के पंचवाहिनी निवासी 26 वर्षीय मुन्ना राय, विजयपुर निवासी 27 वर्षीय करण कुमार सिंह, शिकारीपाड़ा के शिवतल्ला निवासी 30 वर्षीय नईम खान और शिकारीपाड़ा के रामगढ़ निवासी एतवारी राय उर्फ भंगवा को गिरफ्तार किया है. पुलिस ने इन आरोपियों के पास से पुलिस ने गिरफ्तार अपराधियों के पास से दो देसी कट्टा, पांच कारतूस, बिना नंबर प्लेट की कार, पांच मोबाइल, एक बाइक और होटल में रहने संबंधी कागजात बरामद किया है.

छापेमारी दल में शामिल पुलिस टीम

डीएसपी मुख्यालय विजय कुमार, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी नूर मुस्तफा, पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी नवल किशोर सिंह, जामा थाना प्रभारी जितेंद्र कुमार सिंह, दिधी ओपी प्रभारी आकृष्ट अमन, पुलिस अवर निरीक्षक श्यामल कुमार मंडल, पुलिस अवर निरीक्षक जितेंद्र साहू, पुलिस अवर निरीक्षक तारीक वसीम, पुलिस पुलिस अवर निरीक्षक कौशलेंद्र कुमार ठाकुर, पुलिस अवर निरीक्षक अजीत कुमार और पुलिस अवर निरीक्षक दिलीप पाल शामिल है.

Also Read: साहिबगंज के बरहरवा में महज एक साल में ही टूटने लगे स्टेनलेस स्टील डस्टबीन, ऐसे में कैसे स्वच्छ होगा शहर?

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें