25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

शहीद आर्मी के पिता भी हैं आर्मी से रिटायर, भाई व साला भी हैं सेना में

शहीद जवान के परिवार के सदस्य भी हैं सेना में

शहीद प्रज्ञानंद सिंह के परिवार में पसरा सन्नाटा, पुरानी यादों को ताजा कर सिसक रही हैं मां व पत्नी :

जोड़ापोखर

. आर्मी के लांस नायक शहीद प्रज्ञानंद सिंह के जीतपुर पोस्ट ऑफिस के निकट अवस्थित आवास पर शुक्रवार को भी सन्नाटा पसरा रहा. पूरा परिवार शोक में डूबा हुआ है. पत्नी नीतू कुमारी व मां सुनैना देवी शहीद प्रज्ञानंद की तस्वीर के सामने बैठकर उसके चेहरे को निहार रही थीं. मां पुत्र व पत्नी फूट-फूट कर रो रहे थे. आसपास की महिलाएं दोनों को ढांढस बंधाने में जुटी थी. वहीं परिवार के लोग शहीद की पुरानी यादों को ताजा कर रहे थे. शहीद के बड़े भाई पुष्प नारायण सिंह ने बताया कि 27 मार्च को पिता गजेंद्र सिंह शहीद प्रज्ञानंद से भेंट करने उधमपुर गये थे. उससे भेंट कर 29 मार्च को धनबाद लौटे थे. घटना के दिन छह अप्रैल को शहीद के साथ परिवार के लोगों की मोबाइल पर लंबी बातचीत भी हुई थी. लेकिन अचानक प्रज्ञानंद की मौत की खबर ने पूरे परिवार को झकझोर कर रख दिया है. शहीद की पत्नी नीकू कुमारी बीएड है, शिक्षिका की नौकरी के प्रयास में लगी हुई है. मांझिल भाई मनोज सिंह, मां सुनैना देवी सिर्फ याद कर ही रो पड़ते हैं. पुष्प नारायण ने कहा कि वे ग मूल रूप से मधुबनी बिहार के रहने वाले हैं. उनके परिवार में अधिकांश लोग सेना में रह कर देश की सेवा में जुटे हैं. शहीद के पिता भी सेना के रिटायर्ड कर्मी हैं. शहीद का साला भी नेवी में है. भाई पुष्पनारायम भी सेना में अंबाला में पदस्थापित है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें