18.1 C
Ranchi
Tuesday, February 27, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

धनबाद : पुलिस रिमांड में रितेश ने कबूला अमन की हत्या का गुनाह

धनबाद मंडल कारा अस्पताल में गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या में आरोपित रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो को पांच दिनों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद शनिवार को सरायढेला पुलिस ने वापस जेल भेज दिया.

धनबाद मंडल कारा अस्पताल में गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या में आरोपित रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो को पांच दिनों की रिमांड अवधि पूरी होने के बाद शनिवार को सरायढेला पुलिस ने वापस जेल भेज दिया. इससे पूर्व सदर अस्पताल में रितेश यादव की मेडिकल जांच करायी गयी. चिकित्सकों के अनुसार जांच में वह पूरी तरह फिट पाया गया. सरायढेला थाना प्रभारी सह अनुसंधानकर्ता विनय कुमार ने प्रभारी मुख्य न्यायिक दंडाधिकारी राजीव त्रिपाठी की अदालत में रितेश यादव को पेश किया. इसके बाद अदालत ने उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया. बता दें कि चार दिसंबर को केस के अनुसंधानकर्ता विनय कुमार ने अदालत में आवेदन देकर रितेश यादव को पूछताछ के लिए दस दिन की पुलिस रिमांड पर देने की प्रार्थना की थी. अदालत ने पांच दिन के लिये उसे रिमांड पर देने का आदेश जेल प्रशासन को दिया. धनबाद थाना कांड संख्या 484/23 के प्राथमिकी अभियुक्त रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो ( 21), पिता इंद्रपाल यादव साकिन चांदपुर दलहुपुर जिला प्रतापगढ़, उत्तर प्रदेश को पूछताछ के लिए 120 घंटे पुलिस रिमांड पर लिया गया था.

रितेश ने पुलिस के समक्ष उगले कई राज

पुलिस रिमांड में रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो ने यूपी के गैंगस्टर अमन सिंह की हत्या का अपराध कबूल किया है. जेल में हथियार किसके माध्यम से पहुंचा, उसे किसने हथियार मुहैया कराया, अमन सिंह की हत्या करने में किस-किस ने उसकी जेल में मदद की… पुलिस के समक्ष उसने कई खुलासे किये हैं. हालांकि, पुलिस ने इस हत्याकांड में शामिल अन्य अपराधियों के नाम का खुलासा अब तक नहीं किया है. पुलिस सूत्रों के अनुसार केस के अनुसंधानकर्ता विनय कुमार जल्द ही न्यायालय में आवेदन देकर रितेश यादव उर्फ सुंदर महतो को कुछ दिनों के लिए दोबारा रिमांड पर देने का आग्रह कर सकते हैं.

Also Read: धनबाद : खुद को अमन सिंह बता व्यवसायी से रंगदारी मांगने वाले को तीन साल की कैद की सजा

इन्होंने की हत्या में मदद

पुलिस सूत्रों के अनुसार रितेश यादव उर्फ सुंदर यादव ने पांच दिनों की पुलिस रिमांड के दौरान सतीश उर्फ गांधी, विकास बजरंगी व अमर रवानी का नाम हथियार मुहैया कराने व मदद करने वालों में लिया है. इसके बाद केस के आइओ विनय कुमार जेल में बंद तीनों अपराधियों को रिमांड पर लेने की तैयारी में है. संभावना जतायी जा रही है कि तीनों अपराधियों को रिमांड पर लेने के लिए सरायढेला पुलिस सोमवार अथवा मंगलवार को न्यायालय में आवेदन करेगी. तीनों अपराधियों से पूछताछ के बाद हत्या की मुख्य वजह का खुलासा हो सकता है.

Also Read: अमन सिंह हत्याकांड: जांच करने पहुंची धनबाद पुलिस, घटनास्थल की हुई नापी

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें