1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. chatra
  5. social audit of mgnarega in chatra came to light after that panchayat imposed fine

चतरा में मनरेगा का हुआ सोशल ऑडिट तब जाकर गड़बड़ी हुआ उजागर, पंचायत ने लगाया जुर्माना

इन दिनों जिले की सभी पंचायतों में वित्तीय वर्ष 2020-21 का मनरेगा सोशल ऑडिट किया जा रहा है. सदर प्रखंड की डमडोइया पंचायत में भी पंचायत स्तर पर सोशल ऑडिट किया गया

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
चतरा में मनरेगा का हुआ सोशल ऑडिट
चतरा में मनरेगा का हुआ सोशल ऑडिट
Symbolic Pic

इन दिनों जिले की सभी पंचायतों में वित्तीय वर्ष 2020-21 का मनरेगा सोशल ऑडिट किया जा रहा है. सदर प्रखंड की डमडोइया पंचायत में भी पंचायत स्तर पर सोशल ऑडिट किया गया, जिसमें कई गड़बड़ी पायी गयी. सोशल ऑडिट के दौरान दो योजना (वर्मी कंपोस्ट) धरातल पर नहीं पाया गया, जबकि राशि की निकासी कर ली गयी. पंचायत में वर्ष 2020-21 में 873 योजना का कार्य किया गया.

एक करोड़ 82 लाख 20 हजार 598 रुपये खर्च किये गये. टीम को 32 अभिलेख उपलब्ध नहीं कराया गया. कई योजनाओं में प्राक्कलित राशि से अधिक राशि की निकासी की गयी हैं. जूरी द्वारा 15 दिनों के अंदर सरकार के खाते में राशि जमा करने का निर्देश दिया गया. टीसीबी में 67 गड्ढा करना था, लेकिन कहीं 40, तो कहीं 30 गड्ढा ही किया गया है.

टीसीबी का निर्माण वैसे बंजर भूमि या ढलान भूमि में किया जाना था, जहां बहते हुए पानी को रोका जा सके. लेकिन टीसीबी का निर्माण उपजाऊ भूमि में किया गया है. इस मामले की सुनवाई के दौरान जेई पर आर्थिक दंड लगाया गया. कुआं निर्माण के लाभुकों को भेंडर द्वारा सामग्री उपलब्ध नहीं करा कर राशि भुगतान किया गया है. ऐसे तीन लाभुक हैं. कई ऐसी योजना पायी गयी कि जिसमें बिना लाभुक की जानकारी के पैसे की निकासी कर ली गयी.

जानकारी सामने आयी कि पंचायत के मुखिया रियासत अंसारी, बीपीओ राजीव रंजन, पंचायत सचिव जितेंद्र नायक, रोजगार सेवक सृतम राम, पंचायत समिति सदस्य प्रदीप दांगी, जेई केदार प्रसाद व कंप्यूटर ऑपरेटर द्वारा गड़बड़ी की गयी है. सोशल ऑडिट टीम का नेतृत्व राजेश यादव कर रहे हैं. इसके अलावा टीम में विनय ठाकुर, बसंती देवी, संजय प्रजापति, पंकज रवानी, यशोदा देवी शामिल हैं.

टीम का नेतृत्व कर रहे श्री यादव ने कहा कि सोशल ऑडिट के दौरान कई गड़बड़ी पायी गयी है, जिसकी सुनवाई जूरी द्वारा की जा रही है. सोशल ऑडिट कार्य आठ से 14 फरवरी तक किया गया. जूरी द्वारा जनसुनवाई में 49 हजार 250 रुपये रिकवर करने का निर्देश दिया गया, जबकि उक्त पदाधिकारियों पर 3601 जुर्माना लगाया गया.

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें