1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. chatra
  5. coal smuggling and dumper robbery mastermind avinash arrested by piparwar police was accused in coal and diesel theft in many districts of jharkhand mtj

कोयला तस्करी व डंपर लूटकांड का सरगना अविनाश गिरफ्तार, झारखंड के 4 जिलों की पुलिस को थी तलाश

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
कोयला तस्करी व डंपर लूटकांड का सरगना अविनाश गिरफ्तार, झारखंड के 4 जिलों की पुलिस को थी तलाश.
कोयला तस्करी व डंपर लूटकांड का सरगना अविनाश गिरफ्तार, झारखंड के 4 जिलों की पुलिस को थी तलाश.
Deenbandhu

चतरा/पिपरवार (दीनबंधु/सुनील कुमार) : कोयला चोरी और लूटपाट गिरोह के सरगना अविनाश उर्फ अरुण साव को गिरफ्तार कर लिया गया है. अविनाश को पिपरवार पुलिस ने बुंडू स्थित उसके आवास से गिरफ्तार किया है. उसके खिलाफ झारखंड के कई जिलों में कई मामले दर्ज हैं. पिपरवार थाना के प्रभारी संजय कुमार सिंह ने उसकी गिरफ्तारी की पुष्टि की है.

थाना प्रभारी ने मंगलवार को बताया कि पिपरवार की पुलिस ने सोमवार को अविनाश को गिरफ्तार किया. मंगलवार को उसे चतरा जेल भेज दिया गया. उसके खिलाफ चतरा के अलावा हजारीबाग, रामगढ़ एवं लातेहार जिला के करीब आधा दर्जन थाना में एक दर्जन से अधिक मामले दर्ज हैं. उसके खिलाफ पिपरवार, केरेडारी, बड़कागांव, उरीमारी और बालूमाथ थाना में मुकदमे दर्ज हैं.

ट्रांसपोर्ट कंपनी जय मां अंबे रोडलाइंस के हाइवा डंपर लूटकांड व कोयला तस्करी का यह सरगना बुंडू का रहने वाला है. अविनाश पर सिर्फ पिपरवार थाना में पांच आपराधिक मामले दर्ज हैं. इस संबंध में थाना प्रभारी संजय कुमार सिंह ने बताया कि 2 अक्टूबर, 2020 को कारो के निकट हुई हाइवा डंपर लूटकांड में का मास्टरमाइंड यही था.

केरेडारी थाना क्षेत्र के बुंडू गांव में अवैध रूप से संचालित कोयला खदान से कोयला की तस्करी में वह पिछले दो वर्ष से सक्रिय था. अविनाश डीजल चोरी के मामले में भी प्राथमिक अभियुक्त था. उस पर बड़कागांव व बालूमाथ थाना में भी कोयला तस्करी के मामले दर्ज हैं.

थाना प्रभारी ने बताया कि पुलिस उसकी गिरफ्तारी को लेकर काफी दिनों से प्रयासरत थी. सोमवार को गुप्त सूचना पर अविनाश को उसके बुंडू आवास के निकट से उसे गिरफ्तार कर लिया गया. मंगलवार को उसे कोर्ट में पेश किया गया और उसके बाद चतरा जेल भेज दिया गया.

थाना प्रभारी ने बताया कि 2 अक्टूबर को अविनाश गिरोह ने हथियार के बल पर पिपरवार थाना क्षेत्र के बिलारी गांव के पास से एक हाइवा डंपर लूट लिया था. पुलिस ने पीछा कर हजारीबाग के चरही से हाइवा बरामद कर लिया, जबकि गिरोह के एक सदस्य को भी गिरफ्तार कर लिया था. उन्होंने कहा कि अविनाश घटना को अंजाम देने के बाद फरार हो जाता था.

इसी बीच, पुलिस को गुप्त सूचना मिली कि अविनाश एक बार फिर किसी घटना को अंजाम देने की योजना बना रहा है. एक छापेमारी दल का गठन कर ग्राम बुंडू थाना केरेडारी से उसे गिरफ्तार कर लिया गया. पूछताछ में उन्होंने कई कांडों में अपनी संलिप्ता स्वीकार की है.

अविनाश उर्फ उरुण साव और उसके अपराध

डकरा : अविनाश कुमार उर्फ अरुण साव, पिता धनश्याम साव मूल रूप से केरेडारी थाना क्षेत्र के बुंडू गांव का रहने वाला है. उस पर सिर्फ पिपरवार थाना में चार मामले (कांड संख्या- 54/18 डीजल चोरी का मामला, कांड संख्या- 31/19 कोयला चोरी, कांड संख्या- 19/20 कोयला और ट्रक चोरी, कांड संख्या- 39/20 हाइवा डंपर की लूट) सहित बड़कागांव थाना कांड संख्या 36/20 और बालूमाथ एवं केरेडारी थाना में भी कई आपराधिक मामले दर्ज हैं. उन्होंने बताया कि अभी कांड संख्या 19/20 के तहत उसे जेल भेजा गया है. अन्य कांडों में उसे रिमांड पर लेने की बात कही गयी है.

Posted By : Mithilesh Jha

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें