1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. jharkhand dinesh singh wrote two novels in english this is the wish of colliery driver son grj

झारखंड के दिनेश सिंह ने अंग्रेजी में लिखे दो उपन्यास, कोलियरी में ड्राइवर के पुत्र की ये है तमन्ना

उपन्यास 'सॉरी माइ लव आइ विल नेवर डू इट अगेन' और 'लव मेक्स द डेड अलाइव' को लेखक दिनेश सिंह ने अपने माता-पिता को समर्पित किया है. दिनेश का प्रयास है कि उनकी पटकथा पर फिल्म बने, ताकि समाज को एक नयी दिशा तथा युवाओं को प्रेरणा मिले.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand News: माता-पिता के साथ लेखक दिनेश सिंह
Jharkhand News: माता-पिता के साथ लेखक दिनेश सिंह
प्रभात खबर

Jharkhand News: झारखंड के बोकारो जिले के सीसीएल कथारा प्रक्षेत्र अंतर्गत स्वांग वन बी आवासीय कॉलोनी के दिनेश सिंह (33 वर्ष) ने अंग्रेजी में दो उपन्यास लिखे हैं. नेशन प्रेस से प्रकाशित दोनों उपन्यास 'सॉरी माइ लव आइ विल नेवर डू इट अगेन' और 'लव मेक्स द डेड अलाइव' को लेखक ने अपने माता-पिता को समर्पित किया है. दिनेश का प्रयास है कि उनकी पटकथा पर फिल्म बने, ताकि समाज को एक नयी दिशा तथा युवाओं को प्रेरणा मिले. आपको बता दें कि इनके पिता कोलियरी में ड्राइवर के रूप में कार्यरत हैं.

दिल्ली में हैं अंग्रेजी के शिक्षक

दिनेश सिंह की प्रारंभिक शिक्षा स्वांग डीएवी स्कूल से हुई. उन्होंने हजारीबाग के बिनोवा भावे विश्वविद्यालय से अंग्रेजी में स्नातक किया है. ग्रेजुएशन करने के बाद इन्होंने इग्नू से स्नातकोत्तर किया है. उन्होंने जर्मन भाषा का भी कोर्स किया है. वह फिलहाल दिल्ली के पायनियर एकेडमी में अंग्रेजी शिक्षक के रूप में कार्यरत हैं. दिनेश सिंह के पिता धूपलाल सिंह मूल रूप से बोकारो जिले के नावाडीह प्रखंड की खाइयोखार पंचायत के सुरही गांव के निवासी हैं. फिलहाल वह सीसीएल की स्वांग कोलियरी में पीओ के वाहन चालक हैं.

अपनी पटकथा पर फिल्म की तमन्ना

लेखक दिनेश सिंह के पिता धूपलाल सिंह की तमन्ना है कि उनका पुत्र उन लोगों का नाम रोशन करे. दिनेश सिंह दिल्ली में अंग्रेजी विषय के शिक्षक हैं तथा एफएम रेडियो में भी काम कर चुके हैं. उन्होंने फिल्म स्टार अनुपम खेर के एक्टर्स प्रिपेयर्स संस्थान से पटकथा लेखन में छह माह का डिप्लोमा कोर्स किया है. इसी दौरान उन्होंने 2018 और 2021 में अंग्रेजी में दोनों पुस्तकें लिखीं. दिनेश का प्रयास है कि उनकी पटकथा पर फिल्म बने, ताकि समाज को एक नयी दिशा तथा युवाओं को प्रेरणा मिले.

रिपोर्ट: नागेश्वर

Prabhat Khabar App :

देश-दुनिया, बॉलीवुड न्यूज, बिजनेस अपडेट, मोबाइल, गैजेट, क्रिकेट की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

googleplayiosstore
Follow us on Social Media
  • Facebookicon
  • Twitter
  • Instgram
  • youtube

संबंधित खबरें

Share Via :
Published Date

अन्य खबरें