1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. death of 12 year old leopard akshay will no longer be growl in bokaro sam

12 साल के तेंदुआ 'अक्षय' की हुई मौत, अब बोकारो में नहीं सुनाई देगी इसकी गुर्राहट

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Jharkhand news : बोकारो के जवाहर लाल नेहरू जैविक उद्यान में तेंदुआ 'अक्षय' की हुई मौत.
Jharkhand news : बोकारो के जवाहर लाल नेहरू जैविक उद्यान में तेंदुआ 'अक्षय' की हुई मौत.
सोशल मीडिया.

Jharkhand news, Bokaro news : बोकारो (सुनील तिवारी) : इस्पात नगरी बोकारो में अब 'अक्षय' की गुर्राहट कभी सुनाई नहीं देगी. सेक्टर-4 स्थित जवाहर लाल नेहरू जैविक उद्यान (Jawaharlal Nehru Biological Park) में रविवार (27 सितंबर, 2020) की सुबह लगभग 9 बजे एक नर तेंदुआ (Male leopard) अपने बाड़े के अंदर मृत पाया गया. 'अक्षय' नाम का यह तेंदुआ बिल्कुल स्वस्थ था. वह लगभग 12 साल का था.

तेंदुआ अक्षय की मौत की जानकारी तब हुई, जब जैविक उद्यान में सुबह उसे भोजन देने के लिए उसका बाड़ा खोला गया. बाड़ा खोलने पर अक्षय को अपने बाड़े के अंदर मृत पाया गया. बताया गया कि शनिवार को तेंदुआ अक्षय बिल्कुल स्वस्थ था, लेकिन रविवार की सुबह वह अपने बाड़े में मृत पाया गया.

'अक्षय' को जुलाई 2014 में टाटा चिड़ियाघर, जमशेदपुर से बोकारो लाया गया था. अक्षय की मृत्यु की सूचना वन विभाग को दे दी गयी है. अधिकारियों की देख-रेख एवं जैविक उद्यान के प्रभारी डॉ गौतम चक्रवर्ती की उपस्थिति में पोस्टमार्टम किया गया. अब जैविक उद्यान बोकारो में 5 तेंदुए रह गये हैं.

6 साल तक पर्यटकों को आकर्षित करता रहा

तेंदुआ 'अक्षय' को लगभग 6 वर्ष की उम्र में जमशेदपुर से बोकारो लाया गया था. यह 8 साल तक पर्यटकों को आकर्षित करता रहा. रविवार की सुबह उसकी मौत हो गयी. जैविक उद्यान में वर्तमान में 5 तेंदुआ स्वस्थ रूप से रह रहे हैं. आमतौर पर तेंदुए 12-15 साल से अधिक जीवित नहीं रहते हैं.

Posted By : Samir Ranjan.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें