1. home Hindi News
  2. state
  3. jharkhand
  4. bokaro
  5. coronavirus outbreak bokaros women making masks for coronavirus fighters

Coronavirus Outbreak: कोरोना से लड़ने वालों के लिए मास्‍क बना रही हैं बोकारो की महिलाएं

By AmleshNandan Sinha
Updated Date

सुनील तिवारी

बोकारो : कोरोनावायरस की वजह से लॉकडाउन हुए देश में महिलाएं घर पर रहकर भी पुरुषों का साथ निभा रही है. इस्पात नगरी बोकारो में जितने फौलादी हौसले पुरुषों के हैं, उतने ही मजबूत इरादे महिलाओं के भी हैं. कुछ ऐसे ही मजबूत इरादों के साथ नारी शक्ति कोरोना वायरस से चल रही जंग को जीतने के लिए अपना योगदान दे रही है. ये महिलाएं लोगों के लिए मास्‍क तैयार रही हैं.

बोकारो स्टील प्लांट में काम करने वाले श्रमवीरों को कोरोना के संक्रमण से बचाने के लिए महिला समिति बोकारो से जुड़ी महिलाएं मास्क बनाने में जुटी हुई हैं. शनिवार को 'प्रभात खबर' से बातचीत के दौरान महिलाओं ने कहा : नवरात्रि में वह भले ही मंदिर नहीं जा पा रही हैं, पर यह नेक कार्य कर वह शक्ति की आराधाना के साथ-साथ मानवता की सेवा कर रही है. कहा : इस बार नवरात्रि 9 दिन की नहीं, बल्कि 21 दिन की है. मास्क बनाने का काम समिति के स्वावलंबन केंद्र, सेक्टर-04, बीजीएच स्थित सुरभि केंद्र व सेक्टर-04 स्थित सिलाई-कढ़ाई सेंटर में हो रहा है.

2000 मास्क बीजीएच को सप्लाई

महिला समिति बोकारो ने बोकारो जेनरल अस्पताल (बीजीएच) को 2000 मास्क की आपूर्ति की है. मास्क बनाने का काम महिला समिति के तीन केंद्रों पर सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखकर किया जा रहा है. हर शिफ्ट में दो-तीन महिलाएं हीं केंद्र पर मास्क बनाने का काम कर रही हैं. समिति से जुड़ी कुछ महिलाएं घर पर रहकर मास्क बना रही हैं तो कुछ यूनिट में सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए वहां मास्‍क तैयार कर रही हैं. मतलब, स्वयं का ख्याल रखते हुए दूसरों की सुरक्षा के लिए महिलाएं तत्परता के साथ मास्क बनाने में जुट गयी हैं.

प्रतिदिन 200-250 मॉस्क तैयार

महिला समिति बोकारो की सचिव संध्या राज ने बताया : बोकारो स्टील प्लांट व बीजीएच में हमारे परिवार के लोग ही काम कर रहे हैं. उनकी सुरक्षा की जिम्मेदारी हमारी भी है. महिला समिति बोकारो पूरे समर्पण के साथ प्लांट के साथ खड़ी है. अब तक दो हजार मास्क की सप्लाई बीजीएच को हो चुकी है. मास्क बनाने में दो दर्जन से अधिक महिलाएं जुटी हैं. समिति की महिलाएं प्रतिदिन 200-250 मास्क तैयार कर रही हैं. मास्क कपड़े का बनाया जा रहा है, ताकि अच्छे से धोने के बाद उसका दूबारा इस्तेमाल किया जा सके. महिलाओं की ओर से तैयार मॉस्क हर तरह से सुरक्षित है.

बीएसएल सेफ्टी विभाग को मास्क

महिला समिति बोकारो की ओर से लगातार मास्क का निर्माण किया जा रहा है. निर्मित मास्क की सप्लाई बीएसएल-बीजीएच के साथ-साथ अन्य जरूरतमंद लोगों के बीच किया जा रहा है. बीएसएल के संचार प्रमुख मणिकांत धान ने बताया : सेफ्टी विभाग की ओर से प्लांट के अधिकारी व कर्मियों के बीच एक राउंड मास्क का वितरण किया जा चुका है. फिर वितरण करना है, क्योंकि दो-चार दिन के इस्तेमाल के बाद वह इस्तेमाल के योग्य नहीं होगा. इसके लिए महिला समिति से संपर्क किया गया है. अब अधिकारी व कर्मियों के बीच समिति के मास्क का वितरण किया जायेगा.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें