26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

एलोरा हॉस्टल का बड़ा हॉल, खाली मकान व चहारदीवारी की गयी ध्वस्त

बीएसएल. बोकारो एयरपोर्ट के विस्तार के लिये खत्म किया जायेगा एलोरा हॉस्टल का अस्तित्व, नगर सेवा के अधिकारियों की टीम सिक्योरिटी विभाग के दर्जनों कर्मियों के साथ पहुंची

बोकारो. बोकारो एयरपोर्ट के विस्तार के लिये कैंप-2 स्थित एलोरा हॉस्टल का अस्तित्व खत्म किया जायेगा. इसकी शुरूआत गुरुवार को बीएसएल की ओर से की गयी. नगर सेवा के अधिकारियों की टीम यहां सिक्योरिटी विभाग के दर्जनों कर्मियों के साथ पहुंची. साथ हीं एक जेसीबी मशीन भी थी. टीम ने पहुंचते हीं सबसे पहले चहारदिवारी तोड़ी. इसके बाद हॉस्टल का बड़ा हॉल तोड़ा. फिर, कुछ खाली मकान को भी ध्वस्त किया. मतलब, आने वाले कुछ दिनों के बाद एलोरा हॉस्टल का अस्तित्व खत्म हो जायेगा.

यहां उल्लेखनीय है कि बोकारो स्टील प्लांट प्रबंधन ने एयरपोर्ट के विस्तारीकरण के लिए एलोरा हॉस्टल को खाली कराने की प्रक्रिया शुरू की है. बीएसएल ने वहां रह रहे लोगों को 11 फरवरी को हीं खाली कराने का नोटिस दे दिया था. एयरपोर्ट की चहारदीवारी से सटे एलोरा हॉस्टल में कुल 126 मकान हैं. इन्हें खाली कराकर जमींदोज किया जाना है. यहां जो लोग वैध रूप से रह रहे थे, उनको बीएसएल ने पहले ही आवास दे दिया है और वे शिफ्ट भी हो गये हैं. बाकि जो बचे हैं, वह कब्जा कर रह रहे हैं.

अतिक्रमित कॉलोनी व दुंदीबाद का बूचड़खाना हटना बाकी

एयरपोर्ट निर्माण में लगी एएआइ ने बीएसएल और जिला प्रशासन से एयरपोर्ट से सटे अतिक्रमित कॉलोनी, कसाईखाना और एलोरा हॉस्टल को हटाने का अनुरोध किया है, जिससे एयरपोर्ट की चहारदीवारी का विस्तार संभव हो सके और उस क्षेत्र को सुरक्षित किया जा सके. एलोरा हॉस्टल को हटाने का काम तो गुरुवार से शुरू हो गया. यहां जो लोग कब्जा कर रह रहे हैं, उनको बीएसएल की ओर से जबरन खाली कराया जायेगा. सेक्टर बारह की अतिक्रमित कॉलोनी व दूंदीबाद का बूचड़खाना हटना अभी बाकी है.

फरवरी 2024 में बीएसएल की ओर से दिया गया था नोटिस

हवाई अड्डे के विस्तारीकरण को लेकर एलोरा हॉस्टल में रहनेवाले लोगो को जल्द खाली करने का नोटिस फरवरी 2024 में हीं बीएसएल की ओर से दिया गया था. साथ हीं, यहां रह रहे वैध लोगों को दूसरे सेक्टरों में क्वार्टर आवंटित कर शिफ्ट करा दिया गया था. इसके बाद भी कुछ लोग यहां कब्जा कर रह रहे है. गुरुवार को यहां उन स्थानों पर जेसीबी मशीन चली, जहां घर खाली कर दिया गया है. दूसरे चरण में, कब्जा कर रह रहे लागों को जबरन खाली कराया जायेगा, उसके बाद घरों को ध्वस्त किया जायेगा.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें