21.1 C
Ranchi
Saturday, February 24, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

Homeराज्यदिल्लीDelhi Metro: दिल्ली मेट्रो में अब टिकट के झंझट से आजादी, क्यूआर कोड बेस्ड पेपर टिकट की सुविधा शुरु

Delhi Metro: दिल्ली मेट्रो में अब टिकट के झंझट से आजादी, क्यूआर कोड बेस्ड पेपर टिकट की सुविधा शुरु

Delhi Metro में यात्रियों को अधिक से अधिक सुविधा मिले और कम से कम समय जायर हो, दिल्ली मेट्रो इसका खास ख्याल रखता है. इसी कड़ी में डीएमआरसी यात्रियों के लिए मेट्रो स्टेशनों में क्यू आर कोड बेस्ड पेपर टिकट सिस्टम लाया है. इस सुविधा से यात्रियों को टिकट और टोकन के झंझट से राहत मिलेगी.

Delhi Metro: दिल्ली मेट्रो में सफर करने वालों के लिए बड़ी खुशखबरी है. दिल्ली मेट्रो में अब टोकन और टिकट का झंझट खत्म हो गया है. दरअसल दिल्ली मेट्रो ने एक नई सुविधा शुरू की है. इसके तहत डीएमआरसी ने अपनी सभी लाइनों पर यात्रा के लिए क्यूआर कोड के आधार पर टिकट की शुरुआत की है. दिल्ली मेट्रो के इस कदम से यात्रियों का काफी समय बचेगा. साथ ही उन्हें सुविधा भी होगी. यानी दिल्ली मेट्रो में सफर करने वाले यात्री अब टोकन के अलावा क्यूआर कोड बेस्ड पेपर टिकट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं.

मेट्रो स्टेशनों पर मिलेगा क्यूआर कोड बेस्ड टिकट: दिल्ली मेट्रो में यात्रियों के अधिक से अधिक सुविधा मिले और कम से कम उनका समय जायर हो मेट्रो इसका खास ख्याल रखता है. इसी कड़ी में डीएमआरसी की ओर से यह सुविधा जारी की गई है. यानी यात्रियों को मेट्रो स्टेशनों में क्यू आर कोड बेस्ड पेपर टिकट दिया जाएगा. हालांकि यह टिकट जिस स्टेशन से जारी होगा, सिर्फ उसी स्टेशन से यात्री एंटर कर सकते हैं. सबसे खास बात की क्यूआर बेस्ड पेपर टिकट ले लेने के बाद यात्री को 1 घंटे के अंदर एंट्री कर लेनी होगी. समय पार हो जाने के बाद एंट्री नहीं मिलेगी.

यात्रियों के लिए आवाजाही को आसान बनाने की कवायत: गौरतलब है कि दिल्ली मेट्रो में लाखों यात्री हर दिन सफर करते हैं. ऐसे में डीआरएमसी नई-नई सुविधाएं लाकर यात्रियों के लिए आवाजाही को आसान बनाने की कोशिश में लगी रहती है. दिल्ली मेट्रो ने क्यूआर कोड वाले टिकट को रीड करने के लिए एंट्री और एग्जिट गेट्स को भी अपग्रेड किया है. ताकी यात्रियों को किसी किस्म की परेशानी न हो. वहीं, दिल्ली मेट्रो का कहना है कि इस महीने के आखिर तक मोबाइल बेस्ड क्यूआर कोड टिकट की सुविधा भी शुरू होगी. 

Also Read: अमृतसर में 2 दिन में दो धमाके, RAF और पुलिस ने किया फ्लैग मार्च, बोले डीजीपी- IED ब्लास्ट नहीं
खास बातें:-

  • डीएमआरसी ने कहा कि शुरू में क्यूआर कोड बेस्ट आधारित कागज़ के टिकट के लिए सभी स्टेशनों पर दो एएफसी द्वार का उन्नयन किया गया है जिनमें से एक प्रवेश के लिए और एक निकास के लिए है.

  • यात्री क्यूआर टिकट के जरिए उसी स्टेशन से प्रवेश कर पाएंगे जहां से यह जारी हुआ है इसके अलावा किसी ओर स्टेशन से नहीं.

  • टिकट जारी होने के बाद मुसाफिर को 60 मिनट के भीतर मेट्रो स्टेशन में प्रवेश करना होगा और अगर वह इतने वक्त में स्टेशन में प्रवेश नहीं कर पाता है तो यह टिकट अमान्य हो जाएगा.

  • क्यूआर कोड आधारित कागज़ के टिकट से शख्स दो विशिष्ट स्टेशनों के बीच यात्रा कर पाएंगे.

  • अगर यात्री को अपने गंतव्य स्टेशन से पहले बीच में कहीं उतरना है तो एएफसी द्वार इस टिकट से नहीं खुलेंगे. ऐसे में यात्री को निशुल्क निकासी टिकट जारी किया जाएगा और ग्राहक सेवा संचालक पुराना क्यूआर आधारित कागज़ का टिकट अपने पास रख लेगा.

  • अगर मुसाफिर अपने तय स्टेशन से आगे उतरना चाहेगा तो भी एएफसी द्वार नहीं खुलेंगे और यात्री से किराए के अंतर का भुगतान करने के लिए कहा जाएगा.

  • अधिकारियों ने कहा कि क्यूआर आधारित कागज़ के टिकट के मोबाइल से खींचा फोटो या प्रति मान्य नहीं होगी और जिन यात्रियों के पास मोबाइल से खींची फोटो होगी या टिकट की प्रति होगी उन्हें बिना टिकट माना जाएगा तथा नियमों के तहत उनसे निपटा जाएगा.

    भाषा इनपुट के साथ

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें