1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. samastipur
  5. cm nitish kumar instructed for bakhtiyarpur tajpur bridge news construction work latest news skt

ताजपुर-बख्तियारपुर पुल को सीएम नीतीश ने जल्द तैयार करने का दिया निर्देश, जानिये किन जिलों को मिलेगा लाभ

ताजपुर बख्तियारपुर पुल का निर्माण कार्य 2024 तक पूरा हो जायेगा. इससे उत्तर-दक्षिण बिहार में संपर्कता बढ़ेगी.मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को समस्तीपुर जिले में निर्माणाधीन इस पुल के पुनः कार्यारंभ का शुभारंभ किया.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
ताजपुर-बख्तियारपुर पुल का निर्माण कार्य जाजया लेते सीएम नीतीश कुमार
ताजपुर-बख्तियारपुर पुल का निर्माण कार्य जाजया लेते सीएम नीतीश कुमार
ट्वीटर

Bridge Project Bihar: ताजपुर-बख्तियारपुर पुल का निर्माण कार्य 2024 तक पूरा हो जायेगा. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शनिवार को समस्तीपुर जिले में निर्माणाधीन इस पुल के पुनः कार्यारंभ का शुभारंभ किया. मुख्यमंत्री ने विधिवत् पूजन कर एवं नारियल फोड़कर पुनः कार्यारंभ किया. मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बंद पड़े प्रोजेक्ट की फिर से शुरुआत की जा रही है. उन्होंने कहा कि इस प्रोजेक्ट का निर्माण जल्द से जल्द पूर्ण करें, ताकि उत्तर बिहार और दक्षिण बिहार के लोगों की संपर्कता और सुलभ हो सके.

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को दिया निर्देश

मुख्यमंत्री ने अधिकारियों को निर्देश दिया कि मॉनसून आने के पहले मिट्टी संबंधी कार्य तेजी से पूर्ण करें. सीएम ने कार्यक्रम के पूर्व वैशाली - ताजपुर- करजान पथ का हवाई सर्वेक्षण भी किया. इस दौरान मुख्यमंत्री को बिहार राज्य पथ विकास निगम लिमिटेड के अधिकारियों ने प्रजेंटेशन देकर बख्तियारपुर (करजान ) - ताजपुर ग्रीन फील्ड गंगा ब्रिज प्रोजेक्ट की जानकारी दी. इस प्रोजेक्ट की लंबाई 51.127 किलोमीटर है, जिसमें पुल की लंबाई 5.517 किलोमीटर है. एप्रोच रोड की लंबाई 45.610 किलोमीटर है.

गांधी सेतु का पूर्वी लेन अगले माह हो जायेगा चालू

पटना से उत्तर बिहार आने- जाने वाले लोगों को बड़ी राहत मिलनेवाली है. अगले माह अंत तक गांधी सेतु का पूर्वी लेन चालू हो जायेगा. पुल का निर्माण अपने अंतिम चरण में है. इसके 45 में से 43 डेक स्लैब को ढालने का काम पूरा हो चुका है. 32 डेक स्लैब पर सड़क का निर्माण भी पूरा हो चुका है और उस पर अलकतरा (बिटुमिनस) से पिचिंग का काम हो चुका है.

बाकी 11 डेक स्लैब जिनका निर्माण पूरा हो चुका है, उसमें भी अलकतरा और गिट्टी की परत बिछाने का काम चल रहा है. जहां पिचिंग हो चुका है उनमें से 25 डेक स्लैब में मास्टिक का काम भी पूरा हो चुका है जबकि बाकी 20 डेक स्लैब में इसे पूरा किया जाना है. रेलिंग (क्रश बैरियर) का निर्माण 43 ढाले गये डेक स्लैब में से 42 में हो चुका है. 32 एक्सपेंशन ज्वाइंट को लगाने का काम भी हो चुका है जबकि 13 जगह इसे लगाना बाकी है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें