25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

नीट परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर पटना की सड़क पर उतरे छात्र, टायर-पुतला जलाकर जताया विरोध

नीट परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर पटना की सड़क पर कई छात्र उतर गए. उन्होंने अपना विरोध प्रदर्शन किया. टायर और पुतले जलाए.

नीट-यूजी परीक्षा विवाद मामले में बिहार की राजधानी पटना में छात्रों ने विरोध प्रदर्शन किया. दिनकर गोलंबर के पास शनिवार को छात्रों का समूह जमा हुआ और नारेबाजी की. छात्रों ने परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर यह विरोध प्रदर्शन किया. वहां से गुजरने वाले वाहनों को भी रोका गया और इस प्रदर्शन से काफी देर तक यातायात व्यवस्था भी बाधित रही. टायर और पुतला जलाकर छात्रों ने अपनी नाराजगी जाहिर की. वहीं थोड़ी देर बाद ही पुलिस ने छात्रों को उक्त जगह से हटाया.

नीट परीक्षा रद्द करने की मांग को लेकर प्रदर्शन

पटना में प्रदर्शन कर रहे छात्रों का आरोप है कि नीट का पेपर लीक हुआ है. उन्होंने केंद्र सरकार के खिलाफ अपनी नाराजगी प्रकट करते हुए मीडिया के समक्ष कहा कि हमारी मांग है कि परीक्षा को रद्द किया जाए. इस मामले की सीबीआई जांच होनी चाहिए. छात्रों के करियर के साथ ये खिलवाड़ हुआ है. चेतावनी देते हुए उन्होंने कहा कि अगर हमारी मांग पूरी नहीं हुई तो आंदोलन होगा.

पुलिस का दिखा मानवीय चेहरा, गर्मी से अचेत हुए छात्र की मदद की

वहीं नीट यूजी के कथित पेपर लीक मामले को लेकर पटना में नाराज छात्रों के प्रदर्शन के दौरान पुलिस का मानवीय चेहरा भी दिखा. एकतरफ जहां भीड़ को तितर-बितर करने के लिए पुलिस सक्रिय रहे तो वहीं इस दौरान प्रदर्शन करते हुए एक छात्र गर्मी के कारण बेहोश हो गया. जब पुलिसकर्मी की नजर उस छात्र की हालत पर पड़ी तो उसे फौरन पानी पिलाने एक महिला पुलिसकर्मी आगे आयीं. युवक को पंखा झेलकर राहत पहुंचाने का भी प्रयास हुआ.

ALSO READ: नीट-यूजी विवाद: सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार से मांगा जवाब, EOU ने 9 परीक्षार्थियों को पूछताछ के लिए बुलाया

सहरसा में भी विरोध प्रदर्शन

सहरसा में भी नीट परीक्षा विवाद को लेकर विरोध प्रदर्शन किया गया. अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं ने नीट परीक्षा विवाद को लेकर वीर कुंवर सिंह चौक पर विरोध प्रदर्शन किया. बता दें कि नीट रिजल्ट विवाद के बीच एनटीए ने परीक्षा में ग्रेस मार्क्स पाने वाले 1563 छात्रों के लिए फिर से परीक्षा आयोजित करने की बात कही है. वहीं इस मामले में सुप्रीम कोर्ट ने बिहार सरकार से भी जवाब मांगा है. बिहार के 13 परीक्षार्थी जांच के घेरे में हैं. जिनमें 4 परीक्षार्थी पूर्व में ही गिरफ्तार हो चुके हैं और बाकि 9 परीक्षार्थियों को अब आर्थिक अपराध इकाई ने नोटिस भेजकर बुलाया है. इन परीक्षार्थियों से ईओयू पूछताछ करेगी.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें