1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. tej pratap yadav saluted the spirit of jyoti coming from gurugram to darbhanga by driving 1200 km cycle said

तेज प्रताप यादव ने 1200 किमी साईकिल चला कर गुरुग्राम से दरभंगा आनेवाली ज्योति के जज्बे को किया सलाम, कहा...

By Kaushal Kishor
Updated Date
पिता को बैठा कर साइकिल चलाती ज्योति.
पिता को बैठा कर साइकिल चलाती ज्योति.
सोशल मीडिया

पटना : कोरोना वायरस संक्रमण को लेकर देश में लगाये गये लॉकडाउन के बाद प्रवासी बिहारी अपने गृह राज्य लौटने लगे. आर्थिक स्थिति ठीक नहीं होने के कारण कई प्रवासी साइकिल, रिक्शा, ठेला आदि अन्य संसाधनों की व्यवस्था कर बिहार लौटे. इन सबके बीच साइकिल से बिहार आने की सर्वाधिक चर्चा दरभंगा की रहनेवाली 15 वर्षीया ज्योति की हुई.

ज्योति के 1200 किमी साइकिल चलाने के साहस को लेकर राजनीतिक दल निशाना साधने लगे हैं. आरजेडी नेता तेज प्रताप यादव ने ट्वीट कर निशाना साधते हुए कहा है कि ''मेवालाल जी, तनिक बताइये न...? ज्योति को साईकिल से क्यों आना पड़ा गुड़गांव से दरभंगा...?''

मालूम हो कि ज्योति ने अपने घायल पिता को साइकिल पर बैठा कर हरियाणा के गुरुग्राम से सात दिनों में 1200 किलोमीटर का सफर ​तय कर दरभंगा तक पहुंची. ज्योति के साहसिक कदम को सलाम करते हुए भारतीय साइकिलिंग फेडरेशन ने उन्हें ट्रायल के लिए दिल्ली बुलाया है. हालांकि, इस संबंध में ज्योति का कहना है कि ''मुझे साइकिल में रेस लगाने के लिए दिल्ली से फोन आया था, मैंने कहा कि मैं अभी तो रेस नहीं लगा सकती हूं. क्योंकि, मेरे पैर और हाथ में दर्द है.'' हालांकि, ज्योति ने लॉकडाउन खत्म होने के बाद या एक महीने बाद ट्रायल के लिए आने को कहा है.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें