25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Patna Mahavir Mandir में श्रीराम होंगे प्रकट, सज-धजकर तैयार हुआ महावीर मन्दिर, दर्शन को उमड़ी भीड़…

Patna Mahavir Mandir महावीर मन्दिर की ओर से 200 से अधिक निजी सुरक्षाकर्मियों और स्वयंसेवकों को लगाया गया है. भक्त मन्दिर में महावीर मन्दिर के उत्तरी द्वार से प्रवेश करेंगे. प्रसाद और माला के बगैर आनेवाले भक्त मन्दिर के पूर्वी प्रवेश द्वार से सुबह 8 से 10 बजे तक प्रवेश कर सकते हैं.

Patna Mahavir Mandir रामनवमी पर्व पर महावीर मन्दिर सजधजकर तैयार हो गया है. बुधवार की सुबह 2.15 बजे से भक्तों के प्रसाद चढ़ाने और दर्शन का सिलसिला रात्रि 12 बजे तक चलेगा. महावीर मन्दिर के गर्भगृह में स्वर्ण मुकुटधारी हनुमानजी के दोनों विग्रहों और राजदरबार के दर्शन और प्रसाद चढ़ाने के लिए चार लाख से ज्यादा भक्तों के आने का अनुमान है. वीर कुंवर सिंह पार्क से महावीर मन्दिर तक लगभग तीन किलोमीटर लंबे भक्त मार्ग बनाया गया है. बांस की बैरिकेडिंग को पंडाल से कवर किया गया है. पूरे मार्ग में पंखे-लाइट लगाए गये हैं.

जगह-जगह पीने के पानी का प्रबंध किया गया है

जगह-जगह पीने के पानी का प्रबंध किया गया है. महावीर मन्दिर तक आने के लिए भक्तों को वीर कुंवर सिंह पार्क के पश्चिमी द्वार से प्रवेश दिया जा रहा है. वीर कुंवर सिंह पार्क के भीतर लगभग एक किलोमीटर से अधिक लंबा कवर भक्त मार्ग बनाया गया है. महावीर मन्दिर न्यास के सचिव आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि महिलाओं और पुरुषों की अलग-अलग पंक्तियाँ बनायी गयी हैं. पंक्ति में लगे भक्तों को गर्भगृह के दर्शन के लिए कुल 16 जगहों पर एलईडी स्क्रीन लगाए गये हैं. महावीर मन्दिर परिसर के खुले स्थान को भी पंडाल से कवर कर पंखे-लाइट और एलईडी स्क्रीन लगाए गये हैं.

भक्तों की सहायता के लिए महावीर मन्दिर की ओर से 200 से अधिक निजी सुरक्षाकर्मियों और स्वयंसेवकों को लगाया गया है. महावीर मन्दिर के उत्तरी द्वार से भक्त मन्दिर में प्रवेश करेंगे. प्रसाद और माला के बगैर आनेवाले भक्त मन्दिर के पूर्वी प्रवेश द्वार से सुबह 8 से 10 बजे तक प्रवेश कर सकते हैं. भक्तों को वीर कुंवर सिंह पार्क तक ले जाने के लिए महावीर मन्दिर के सामने रेल इंजन के समीप और डाकबंगला चौक से निःशुल्क बस फेरी सेवा का प्रबंध महावीर मन्दिर की ओर से किया गया है.


12 बजे मर्यादा पुरुषोत्तम की जन्म आरती
सुबह 10 बजे महावीर मन्दिर परिसर में स्थित ध्वज स्थल पर मुख्य पूजा शुरू होगी. महावीर मन्दिर के तीनों ध्वजों की पूजा के बाद ध्वज बदले जाएंगे. दोपहर ठीक 12 बजे मर्यादा पुरुषोत्तम श्रीराम की जन्म आरती होगी. आरती के बाद भक्तों के बीच रोट एवं हलवा प्रसाद का वितरण किया जाएगा. दोपहर एक बजे महावीर मन्दिर के पुरोहितों द्वारा भक्तों के ध्वजों की भी पूजा होगी. रामनवमी के अवसर पर 170 भक्तों ने महावीर मन्दिर में ध्वज लगाने की बुकिंग करायी है. इसका लाइव महावीर मन्दिर के फेसबुक पर देखा जा सकता है.

अयोध्या से पहुंचे 8 पुजारी
भक्तों का प्रसाद जल्द चढ़े, इसके लिए अयोध्या से 8 पुजारी बुलाए गए हैं. महावीर मन्दिर में पूर्व से 6 पुजारी को मिलाकर कुल 14 पुजारी भक्तों को पूरे दिन प्रसाद चढ़ाने में सहयोग करेंगे. नैवेद्यम के कुल 14 काउंटर बनाए गए हैं. तिरुपति के कारीगरों की टीम द्वारा 25 हजार किलो नैवेद्यम तैयार किया गया है. भक्तों के लिए निकास द्वार के पास महावीर मन्दिर द्वारा संचालित अस्पतालों की ओर से मेडिकल कैंप लगाए जाएंगे.आचार्य किशोर कुणाल ने बताया कि रामनवमी के अवसर पर भक्त पंक्ति में लगने के बाद मन्दिर तक पहुँचने में जो समय लगता है उसमें पूरी भक्ति के साथ आगे बढ़ते हैं. मन्दिर प्रबंधन ने भक्तों को भरोसा दिलाया कि दोपहर के समय भोग-आरती को छोड़कर शेष सभी समय पर भक्तों की पंक्ति निरन्तर आगे बढ़ती रहेगी.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें