1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. nitish kumar may go to lalu prasad house for iftar political stir in bihar asj

लालू प्रसाद के घर आज शाम इफ्तार में जा सकते हैं नीतीश कुमार, बिहार में सियासी हलचल तेज

राजद की ओर से आयोजित इफ्तार पार्टी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शामिल होने की बात कही जा रही है. कयास लगाया जा रहा है कि आज शाम नीतीश कुमार राबड़ी देवी के पटना स्थित आवास पर जा सकते हैं. महागठबंधन टूटने के बाद यह पहला मौका होगा, जब नीतीश कुमार ऐसे आयोजन में राबड़ी आवास जायेंगे.

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
इफ्तार में लालू और नीतीश कुमार
इफ्तार में लालू और नीतीश कुमार
फाइल

पटना. बिहार की सियासत में कुछ खास होनेवाला है. राजद की ओर से आयोजित इफ्तार पार्टी में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के शामिल होने की बात कही जा रही है. कहा जा रहा है कि आज शाम नीतीश कुमार राबड़ी देवी के पटना स्थित आवास पर जा सकते हैं. महागठबंधन टूटने के बाद यह पहला अवसर होगा जब नीतीश कुमार ऐसे आयोजन में राबड़ी आवास जायेंगे. लालू यादव को मिली जमानत के बाद नीतीश कुमार की ओर से निमंत्रण स्वीकार करने की खबर से राजद खेमा बेहद खुश है.

तेजस्वी ने दिया है निमंत्रण

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव, उनकी मां राबड़ी देवी की तरफ से नीतीश कुमार को भी उपचार पार्टी के लिए न्योता भेजा गया था. सभी राजनीतिक दल के प्रमुख नेताओं को इफ्तार पार्टी में शामिल होने का आमंत्रण भेजने की जानकारी तेजस्वी यादव ने खुद दी थी. अब चर्चा यह है कि नीतीश कुमार राबड़ी देवी की तरफ से मिले निमंत्रण को स्वीकारते हुए सर्कुलर रोड आवाज पहुंच सकते हैं. हालांकि सीएम सचिवालय ने इस संबंध में कोई जानकारी नहीं दी है. नीतीश कुमार पार्टी में पहुंचेंगे या नहीं, यह शाम को ही साफ हो पायेगा, लेकिन फिलहाल नीतीश कुमार के लालू आवास जाने की चर्चा से सियासत में चर्चा तो तेज हो ही गयी है.

कोई तय कार्यक्रम नहीं पर कार्केड है तैयार

दरअसल मुख्यमंत्री का आज कोई मोमेंट यानी कहीं का दौरा नहीं है, लेकिन सूत्रों की मानें तो उनके कार्केड को तैयार रखा गया है. उनका रूट प्लान नहीं बना है लेकिन कार्केड तैयार रहने का अर्थ हुआ कि वो मुनिन्स जोन में ही कहीं जा सकते हैं. अगर नीतीश कुमार वाकई राबड़ी देवी के आवास पर पहुंचते हैं, तो इससे सियासी हलचल बिहार में बढ़ जायेगी. पिछले कुछ अर्से से यह कयास लगते रहे हैं कि नीतीश कुमार को भाजपा केंद्र में भेजने की तैयारी में है, बिहार में भाजपा के दबाव के कारण सियासी समीकरण बदल सकते हैं.

अमित शाह के बिहार आने से ठीक पहले नीतीश का यह कदम

यह भी चर्चा राजनीतिक जानकार करते रहे हैं, लेकिन नीतीश कुमार ने अब तक इस मामले पर अपना पता नहीं खोला है. ऐसे में अगर नीतीश तेजस्वी के साथ दावते इफ्तार में शामिल होते हैं, तो कयासों का दौर नये सिरे से शुरू होगा और अमित शाह के दौरे के पहले भाजपा को नीतीश का यह अंदाज कितना पसंद आयेगा, यह भी देखना दिलचस्प होगा.

कांग्रेस विधायक ने दिया बड़ा बयान

इधर, बिहार कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और विधायक शकील खान ने मीडिया से बात करते हुए कहा है कि बहुत जल्द नीतीश कुमार और कांग्रेस एक साथ आ सकते हैं. शकील खान कहते हैं कि कांग्रेस पहले भी कहती आयी है कि नीतीश कुमार और भाजपा में संबंध अब पहले जैसा नहीं रह गया है. भाजपा नीतीश कुमार को कमजोर करना चाहती है और यह बात नीतीश कुमार भी समझ रहे हैं.

जदयू ने कहा-ऐसी कोई बात नहीं

कांग्रेस चाहती है कि नीतीश कुमार जैसे सहयोगी अगर कांग्रेस के साथ आ जाएं तो आने वाले लोकसभा चुनाव में एनडीए को हराया जा सकता है. वैसे कांग्रेस नेता शकील खान के दावे पर जदयू के मुख्य प्रवक्ता नीरज कुमार कहा कि ऐसी कोई बात नहीं है. नीरज ने आगे कहा कि कांग्रेस के नेता क्या कहते हैं और क्या दावा कर रहे हैं, ये वही जानें.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें