1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. patna
  5. bihar weather rain caused bihar flood latest news 10 rivers water level above red mark updates of bihar badh news skt

Bihar Flood: पड़ोसी राज्यों में हो रही बारिश से बिहार का संकट गहराया, सूबे की 10 नदियां लाल निशान से ऊपर

पड़ोसी राज्यों में लगातार हो रही बारिश से बिहार में एकबार फिर बाढ़ का(Bihar Flood) संकट गहराने गला है. बारिश के कारण प्रदेश की कई नदियों का रौद्र रुप दिखने लगा है. गंगा और सोन नदी में उफान है. गंगा नदी में पिछले दो दिनों में जलस्तर काफी अधिक बढ़ चुका है. कई जिलों में बाढ़ का खतरा बढ़ने लगा है.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
पड़ोसी राज्यों में हो रही बारिश से बिहार का संकट गहराया
पड़ोसी राज्यों में हो रही बारिश से बिहार का संकट गहराया
सोशल मीडिया

पड़ोसी राज्यों में लगातार हो रही बारिश (Bihar Rain Updtaes) से बिहार में एकबार फिर बाढ़ का (Bihar Flood) संकट गहराने गला है. बारिश के कारण प्रदेश की कई नदियों का रौद्र रुप दिखने लगा है. गंगा और सोन नदी में उफान है. गंगा नदी में पिछले दो दिनों में जलस्तर काफी अधिक बढ़ चुका है. कई जिलों में बाढ़ का खतरा बढ़ने लगा है.

लगातार हो रही बारिश के कारण बिहार की नदियों का जलस्तर बढ़ गया है. गंगा के जलस्तर में सबसे अधिक बढोतरी दर्ज की गयी है. पटना में गंगा(Patna Ganga Water Level) नदी अगले 24 घंटे में खतरे के निशान को पार कर सकती है.वहीं बक्सर में भी जलस्तर 2 लाख क्यूसेक से उपर जा चुका है. पटना में दरधा नदी में उफान के कारण हालात बिगड़ने लगे हैं. कइ जगहों पर तटबंध टूट चुका है. जिससे दर्जनों गांवों में पानी घुस चुका है.

गोपालगंज (Gopalganj Flood) में गंडक नदी लाल निशान (Gandak River Water Lavel) के पार बह रही है. नेपाल की बारिश से गंडक नदी तांडव मचाने लगी है. मांझा प्रखंड की नेमुइया पंचायत में नदी का कटाव तेज हो गया है. टोक सखवा गांव के चौकठ तक नदी कटाव करते हुए पहुंच चुकी है. नदी के उग्र कटाव को देखते हुए पिछले 24 घंटे में एक दर्जन से अधिक घरों को लोग तोड़कर गांव को खाली कर चुके हैं.

गोपालगंज में कटाव इतनी भयावह है कि इसे रोका नहीं गया तो अगले 24 से 48 घंटे में टोक सखवा गांव जिले के नक्शे से मिट जायेगा. गंडक नदी पिछले 48 दिनों से खतरे के निशान से ऊपर बनी हुई है. वाल्मीकिनगर बराज से रविवार को डिस्चार्ज 1.26 लाख क्यूसेक से बढ़कर 1.47 लाख क्यूसेक पर आ गया.

मुजफ्फरपुर व दरभंगा में बागमती, समस्तीपुर में बूढ़ी गंडक व सहरसा, खगड़िया और भागलपुर में कोसी के बढ़ते जलस्तर से भी संकट गहराने लगे हैं. जहानाबाद की हालत फल्गू नदी के बढ़ते जलस्तर के कारण बिगड़ रही है.

बिहार में मौसम का मिजाज भी बदल गया है. बंगाल की खाड़ी की तरफ से पश्चिम की ओर बढ़ने वाले निम्न हवा के दबाब और बिहार-झारखंड से होते हुए यूपी के उपरी हिस्से पर बने साइकलोन घेरे के प्रभाव से पटना समेत 19 जिलों में बारिश के आसार हैं. मंगलवार तक सूबे में ग्रीन अलर्ट जारी है.

POSTED BY: Thakur Shaktilochan

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें