पटना : पांच दिनों के पुलिस रिमांड पर भेजा गया शरजील, कन्‍हैया ने उठाया सवाल, कहा- अनुराग व देवेंद्र पर देशद्रोह का केस क्यों नहीं

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date
नयी दिल्ली/पटना : देशद्रोह के मामले में जहानाबाद के काको से गिरफ्तार जेएनयू के शोधार्थी शरजील इमाम को दिल्ली के एक कोर्ट ने बुधवार को पांच दिनों की पुलिस हिरासत में भेज दिया.
उसकी वकील मिशिका सिंह ने बताया कि उसे कड़ी सुरक्षा के बीच शाम में मुख्य मेट्रोपॉलिटन मजिस्ट्रेट पुरुषोत्तम पाठक के आवास पर उनके समक्ष पेश किया गया. पुलिस ने शरजील से पूछताछ के लिए छह दिनों की हिरासत मांगी थी. इससे पहले दिन में पटियाला हाउस कोर्ट परिसर में स्थिति तब तनावपूर्ण हो गयी, जब दिल्ली पुलिस ने बताया कि शरजील को वहां मजिस्ट्रेट के समक्ष पेश किया जायेगा. कुछ वकीलों ने शरजील के खिलाफ नारेबाजी की.
हाथों में ‘देशद्रोही’ लिखे पोस्टर लिये वकीलों ने उसे फांसी देने की मांग की. कोर्ट परिसर के बाहर सीआरपीएफ कर्मियों समेत बड़ी संख्या में सुरक्षा बलों को तैनात किया गया था. इससे पहले दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच की टीम पटना से शरजील को 36 घंटे के ट्रांजिट रिमांड पर सुबह 10:45 बजे इंडिगो की फ्लाइट संख्या- 6इ 687 से दिल्ली ले गयी.
सुबह पटना के महिला थाने से उसे कड़ी सुरक्षा व्यवस्था में गाड़ी से उसे पटना एयरपोर्ट ले जाया गया. एयरपोर्ट पर पहुंचते ही दिल्ली पुलिस की टीम ने गाड़ी से लेकर एयरपोर्ट के इंट्री गेट तक सुरक्षा घेरा बनाया और उसे लेकर अंदर जा रही थी. वहीं, मीडिया के लोग शरजील से बात करने के लिए महिला थाने से ही फॉलो कर रहे थे.
एयरपोर्ट पर सुरक्षा घेरे में मीडिया ने उससे बात करना चाहा. इस पर दिल्ली पुलिस ने पहले रोका, फिर डंडा चला दिया. कुछ मीडियाकर्मियों से हाथापाई हो गयी. वहीं हवाई यात्री भी परेशान हो गये. यात्री अंदर जाना चाह रहे थे, लेकिन पुलिस ने थोड़ी देर के लिए रोक दिया. इस पर यात्रियों से भी पुलिस की बहस हुई. उसे सुरक्षा में फ्लाइट तक पहुंचाया गया और उसे पुलिस लेकर दिल्ली चली गयी.
अनुराग व देवेंद्र पर देशद्रोह का केस क्यों नहीं : कहैन्या
जेएनयू छात्र संघ के पूर्व अध्यक्ष कन्हैया कुमार ने कहा कि वह शरजील का समर्थन नहीं कर रहे, लेकिन सरकार भगवान के प्रसाद की तरह देशद्रोह का केस कर रही है. भड़काऊ भाषण के लिए शरजील पर केस हो सकता है तो केंद्रीय मंत्री अनुराग ठाकुर पर देशद्राेह का मुकदमा क्यों नहीं हो रहा. आतंकियों का साथ देने वाले जम्मू-कश्मीर के डीएसपी देवेंद्र सिंह पर राजद्रोह का मुकदमा दर्ज नहीं होता है.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें