नेताजी की जयंती पर CM नीतीश ने दी श्रद्धांजलि, कहा- राजनीतिक तौर पर नहीं देखी जानी चाहिए मानव शृंखला

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के अवसर पर आज राष्ट्र ने नमन किया और उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की. पटना में राजकीय जयंती समारोह का आयोजन गांधी मैदान के दक्षिणी पूर्वी कोने पर अवस्थित सुभाष पार्क में किया गया, जहां राज्यपाल फागू चौहान एवं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने उनकी आदमकद प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर भावभीनी श्रद्धांजलि दी.

राजकीय जयंती समारोह के उपरांत पत्रकारों से बात करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस जी के कामों को याद करने के लिए हमलोग आज के दिन इकट्ठा होते हैं. उन्होंने देश की आजादी के लिए जो कुछ किया है, त्याग किया, बलिदान किया है, वे हमेशा सम्मान के साथ स्मरणीय रहेंगे. हम इन्हीं शब्दों के साथ उनके प्रति अपनी श्रद्धा निवेदित करते हैं. मानव शृंखला से संबंधित प्रश्न का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि जनता में कितनी जागृति आयी है, ये सब आपलोगों को पता चल गया होगा. 19 जनवरी को जो मानव शृंखला बनी, उसके लिए हमलोगों ने पहले काफी कैंपेन चलाया. जल-जीवन-हरियाली अभियान के प्रति लोगों में जागृति आयी है और पूर्व से ही नशामुक्ति के लिए और दहेज प्रथा एवं बाल विवाह के खिलाफ भी अलग-अलग दो बार मानव शृंखला बनायी जा चुकी है. इस बार जल-जीवन-हरियाली अभियान के पक्ष में और नशामुक्ति के पक्ष में और दहेज प्रथा एवं बाल विवाह के खिलाफ यह मानव शृंखला बनायी गयी. जितनी बड़ी संख्या में इस मानव शृंखला में लोग शामिल हुए हैं, यह देखने वाली बात है. इसके प्रति मेरे मन में संतोष का भाव है. यह जो अभियान चलाया जा रहा है और इसके लिए जो काम किया जा रहा है, इसका लोगों पर असर पड़ा है. इससे निश्चित रूप से हमलोग जल की रक्षा कर सकेंगे, हरियाली को बढ़ावा दे सकेंगे और उससे आनेवाली पीढ़ी का जीवन संरक्षित रख सकेंगे. इस अभियान से पर्यावरण को संतुलित रख सकते हैं. जलवायु परिवर्तन के कारण जो एक खतरनाक स्थिति उत्पन्न होती जा रही है, उससे लोगों को छुटकारा मिलेगा. इसे कभी भी राजनीतिक तौर पर नहीं देखना चाहिए और ना ही विश्लेषण करना चाहिए. यह आमलोगों का अभियान है. 18 हजार किमी से अधिक बनी यह मानव शृंखला जिसमें पांच करोड़ 16 लाख लोगों से भी ज्यादा की भागीदारी हुई, यह कोई साधारण बात नहीं है. मैं सबलोगों के प्रति आभार प्रकट करते हुए अपना सम्मान व्यक्त करता हूं. हमारी सबों से यही अपेक्षा है कि जल-जीवन-हरियाली अभियान के प्रति जागृति रखते हुए सबलोग मिलकर साथ चलें और पर्यावरण के संतुलन को बनाये रखने का प्रयास करें.

इससे पहले जयंती समारोह के अवसर पर पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव, उद्योग मंत्री श्याम रजक, पूर्व प्रदेश महासचिव नागरिक परिषद अरविंद कुमार सिंह सहित अनेक गणमान्य व्यक्तियों ने उनकी आदमकद प्रतिमा पर पुष्पांजलि अर्पित कर श्रद्धांजलि दी. राज्यपाल फागू चौहान ने संयुक्त सशस्त्र बल की सलामी ली. साथ ही एनसीसी कैडेट एवं स्काउट गाइड के परेड का निरीक्षण किया. इस अवसर पर सूचना एवं जन-संपर्क विभाग के कलाकारों द्वारा आरती पूजन, भजन, कीर्तन एवं देशभक्ति गीत के कार्यक्रम प्रस्तुत किये गये.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें