सिपारा, रामकृष्णा नगर व बेऊर के कई इलाके जलमग्न, बारिश के पानी में डूबा बच्चा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

फुलवारीशरीफ : पटना के नंदलाल छपरा बेऊर , सिपारा और रामकृष्णा नगर सहित आसपास के दर्जनों इलाकों में बारिश के पानीं की निकासी नहीं कराये जाने से लोगों में गहरी नाराजगी है. बुद्धिजीवी कॉलोनी में जलजमाव में दस साल का बच्चा नंदकिशोर डूब गया, जिसे आनन-फानन अस्पताल पहुंचाया गया.

बच्चे का अस्पताल में इलाज चल रहा है. रामकृष्णा नगर, नंदलाल छपरा व सिपारा 70 फुट रोड के कई इलाकों में जलजमाव से त्रस्त लोग सड़क पर उतर आये और बुधवार को बाइपास जाम कर प्रदर्शन करते हुए प्रशासन के खिलाफ जमकर भड़ास निकली. सिपारा इलाके में जलजमाव से परेशान नागरिकों ने पांच घंटे तक बाइपास को जाम कर रोषपूर्ण प्रदर्शन किया.
जाम से बाइपास अनिसाबाद से लेकर जीरो माइल तक सैंकड़ों गाड़ियां घंटों जाम में फंसी रहीं. जाम कर रहे लोगों को समझाने पहुंची स्थानीय पुलिस की लोगों ने एक नहीं सुनी. ग्यारह बजे से शुरू जाम प्रशासनिक अधिकारियों के मान-मनौव्वल के बाद शाम 4 बजे के करीब समाप्त किया गया . 70 फुट के पास बाइपास घंटों जाम कर बुद्धिजीवी कॉलोनी में जलजमाव की समस्या का समाधान की मांग को लेकर सीपीएम नेत्री सरिता पांडेय के नेतृत्व में प्रदर्शन किया.
कल भी जाम किया गया था. सांसद व विधायक ने आश्वासन दिया गया था कि पंप से पानी निकला जायेगा, लेकिन प्रशासन ने कोई सहयोग नहीं किया. पुनः बुधवार को भी लोगों ने जाम कर दिया. नंदलाल छपरा में भी त्रस्त लोग सड़क पर उतर कर बाइपास को जाम किया.
दीघा-आशियाना रोड को दो घंटे तक रखा जाम
पटना. राजीव नगर के नेपाली नगर, जयप्रकाश नगर आदि इलाके में जलजमाव की समस्या को लेकर लोग सड़क पर उतर पड़े और दीघा-आशियाना रोड को जयप्रकाश नगर मोड़ के पास दो घंटे तक जाम रखा. जाम की जानकारी मिलने पर राजीव नगर के साथ ही दो-तीन थानों की पुलिस पहुंची और कार्रवाई करने का आश्वासन देकर जाम को खत्म करवाया.
लेकिन इस जाम के कारण दीघा-आशियाना रोड में यातायात व्यवस्था काफी खराब हो गयी थी और लोगों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा. वाहनों की लंबी लाइन लग गयी थी. यातायात व्यवस्था को सामान्य करने में पुलिस के पसीने छूट गये.
Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें