मोदी की जाति पर टिप्पणी को लेकर पासवान का पलटवार, कहा- संविधान को लेकर अज्ञानता उजागर करता है मायावती पर का दावा

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

पटना : केंद्रीय मंत्री और भाजपा के सहयोगी दल लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) के अध्यक्ष रामविलास पासवान ने शुक्रवार को बसपा प्रमुख मायावती के उस दावे की आलोचना की, जिसमें मायावती ने कहा था कि मोदी पिछड़ी जाति में पैदा नहीं हुए थे. पासवान ने कहा कि मायावती के इस दावे ने संविधान को लेकर उनकी अज्ञानता को उजागर कर दिया है.

दलित नेता पासवान ने कहा कि मोदी की जाति 1994 में अन्य पिछड़ा वर्ग में जोड़ी जा चुकी है, जब वह सत्ता में नहीं थे और कम प्रसिद्ध थे. उन्होंने कहा कि आरक्षण हासिल कर चुकीं जातियों की सूची को अकसर अद्यतन किया जाता रहा है. उन्होंने कहा कि यहां तक कि बिहार और उत्तर प्रदेश जैसे राज्यों में पिछड़े के रूप में वर्गीकृत किये जाने के बाद भी हरियाणा में यादवों को ओबीसी सूची में लाया गया था. उन्होंने कहा, ''मायावती मुख्यमंत्री थीं और उन्हें इस बारे में पता होना चाहिए. उनका दावा केवल संविधान को लेकर उनकी अज्ञानता को उजागर करता है.''

मायावती ने लगाया था पीएम मोदी पर आरोप

बसपा प्रमुख मायावती ने आरोप लगाया था कि मोदी पिछड़ी जाति के 'फर्जी' नेता हैं, क्योंकि वह पिछड़ी जाति में पैदा नहीं हुए.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें