छात्रा ने अपनी सहेली को जहर देकर मार डाला, प्राथमिकी दर्ज

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

हिलसा (नालंदा) : एक साथ किराये के मकान में रहकर पढ़ाई करने के दौरान एक छात्रा ने दूसरी छात्रा को कोल्ड ड्रिंक में सल्फास की दवा देकर पिला दिया. जब बेहोश हो गयी, तब छात्रा के परिजन को सूचना दी गयी. इसके बाद परिजनों द्वारा गंभीर हालत में उसे इलाज के लिए पीएमसीएच भर्ती कराया गया. होश आने पर पुलिस के समक्ष जब पीड़ित लड़की ने आपबीती सुनायी, जिसे सुनकर पुलिस के हाथ पैर फूल गये. मामला था कि दोनों लड़की एक लड़के से दोनों प्यार करती थी.

बयान दर्ज कराये जाने के कुछ दिनों के बाद पीड़ित छात्रा की मौत हो गयी. उसके द्वारा दिये गये फर्द बयान के आधार पर हिलसा थाने में हत्या की प्राथमिकी दर्ज करायी गयी है. इस मामले में बुधवार को पुलिस ने कोचिंग सेंटर से आरोपित छात्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है.
बताया जाता है कि हिलसा थाना क्षेत्र के बढनपुरा गांव निवासी काजल कुमारी और इसी थाने के बदुआ गांव निवासी पूजा कुमारी हिलसा शहर के पटेल नगर मोहल्ले में किराये के मकान में एक साथ रहकर पढ़ाई करती थी. इसी दौरान मोनू नाम एक युवक पड़ोस में रहा करता था. दोनों लड़की को युवक से दोस्ती हो गयी. इसके बाद दोनों लड़कियां उसी लड़के से प्यार करने लगीं. दोनों लड़कियों के बीच किसी बात को लेकर विवाद हो गया.
तब काजल कुमारी ने अपनी प्रेमी के रास्ते से हटाने के लिए पूजा कुमारी से फिर गहरी दोस्ती कर ली और 17 जुलाई, 2019 को कोल्ड ड्रिंक पिलाने का बहाना बनाकर पूजा को बुलायी और कोल्ड ड्रिंक में सल्फास की दवा घोल दी. इसके बाद काजल कुमारी ने पूजा कुमारी को जहर मिला कोल्ड ड्रिंक पिला दी. कुछ देर तक नशे की हालत में रहने के बाद हालत जब बिगड़ने लगी तो काजल कुमारी ने पूजा कुमारी के परिजनों को सूचना की.
सूचना मिलने के बाद पूजा कुमारी के परिजन किराये के भवन में आये और पूजा की हालत देखकर उस दौरान आनन-फानन में इलाज कराने के लिए पीएमसीएच ले गये. दो दिनों के बाद पूजा कुमारी जब होश में आयी, तो काजल कुमारी के द्वारा किये गये सारे कारनामे को फर्द बयान में बतायी गयी. हालांकि फर्द बयान देने के कुछ दिनों के बाद पूजा कुमारी की मौत हो गयी.
दोनों लड़कियों का एक लड़के से प्रेम प्रसंग चल रहा था
इसके बाद पूजा कुमारी द्वारा दर्ज कराये गये फर्द बयान के आधार पर हिलसा थाना कांड संख्या 391 धारा 302, 328 भादवि तहत प्राथमिकी दर्ज करायी गयी. उस प्राथमिकी में काजल कुमारी और मोनू कुमार को अभियुक्त बनाया गया. इसका अनुसंधानकर्ता दारोगा राजकिशोर सिंह को बनाया गया. घटना के बारे में अनुसंधानकर्ता श्री सिंह ने बताया कि दोनों लड़की को एक लड़का प्रेम प्रसंग चल रहा था.
मोनु कुमार नाम का लड़का कौन गांव का था. उसके बारे में भी जांच हो रही है. पुलिस निरीक्षक सह थानाध्यक्ष सुरेश प्रसाद के नेतृत्व में बुधवार को दारोगा राज किशोर सिंह ने सशस्त्र बलों के साथ हिलसा अवस्थित एक कोचिंग सेंटर से हत्या की आरोपित काजल कुमारी को गिरफ्तार कर लिया है. पुलिस गहन पूछताछ के बाद व्यवहार न्यायालय हिलसा में प्रस्तुत किया गया है. मोनू की गिरफ्तारी के लिए पुलिस लगातार छापेमारी कर रही है.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें