27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

बाढ़ अनुश्रवण समिति की बैठक में हंगामा

बाढ़ पूर्व तैयारी को लेकर शनिवार को प्रखंड मुख्यालय सभागार में अनुश्रवण समिति की बैठक हुई. इसमें आधे-अधूरे आंकड़ों के साथ अधिकारी पहुंचे थे. बैठक में छह हजारी (नगद अनुदान) की सूची गोपनीय तरीके से अपडेट होने पर जनप्रतिनिधियों ने नाराजगी जतायी.

छह हजारी की सूची गुपचुप तरीके से अपडेट होने पर भड़के जनप्रतिनिधिप्रभारी नाजीर के आमलोगों के साथ दुर्व्यवहार से जमकर हंगामा बैठक में नहीं पहुंचे अधिकांश अधिकारी व राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि आधे-अधूरे आंकड़ों के साथ बैठक में पहुंचे अधिकारी प्रतिनिधि, मीनापुर बाढ़ पूर्व तैयारी को लेकर शनिवार को प्रखंड मुख्यालय सभागार में अनुश्रवण समिति की बैठक हुई. इसमें आधे-अधूरे आंकड़ों के साथ अधिकारी पहुंचे थे. बैठक में छह हजारी (नगद अनुदान) की सूची गोपनीय तरीके से अपडेट होने पर जनप्रतिनिधियों ने नाराजगी जतायी. वहीं अंचल के प्रभारी नाजीर के आमलोगों के साथ दुर्व्यवहार को लेकर जमकर हंगामा हुआ. बैठक की अध्यक्षता प्रमुख राधिका देवी ने की व संचालन सीओ कुणाल गौरव ने किया. प्रखंड के सभी विभागों के अधिकारियों की उपस्थिति अनिवार्य थी. परंतु सीओ, सांख्यिकी पदाधिकारी, सीएचसी प्रभारी, बीपीआरओ के अलावे अन्य अधिकारी अनुपस्थित रहे. साथ ही अधिकांश राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि बैठक में नही पहुंचे थे. सीओ संभावित बाढ़ को लेकर जनप्रतिनिधियों से ऊंचा स्थान, बांध, तटबंध व कटाव की स्थिति के बारे में जानकारी ले रहे थे. इसी बीच मुखिया पति पंकज किशोर पप्पू ने कहा कि पूर्व में बाढ़ प्रभावितों के लिए चलाये गये सामुदायिक किचेन का अभी तक भुगतान नहीं हो पाया है. मुखिया संत कुमार व वरुण सरकार ने कहा कि पंचायत से बाढ़ प्रभावित परिवार को बाढ़ राहत राशि की सूची भेजी जाती है, वह अपडेट नहीं हो पाती है. इसमें बिचौलिया हावी है. सीओ ने कहा कि सूची अपडेट हो चुकी है. इस पर सभी जनप्रतिनिधि भड़क गये और कहा कि जनप्रतिनिधियों को मालूम नहीं सूची अपडेट हो चुकी है. दूसरे जिले के लोगों को भी बाढ़ सहायता राशि 6 हजार दिया जाता आ रहा है. पंसस अमित शाह ने कहा कि पंसस से बाढ़ संबंधी कार्य में सुझाव भी नहीं लिया जाता है. जिला पार्षद डॉ ओमप्रकाश ने ऊंचे शरण स्थल की संख्या बढ़ाने की मांग की. इसी बीच नूरछपडा गांव के भिखारी राम के साथ रूम में बंद कर नाजिर के चार्ज में कार्यरत महफूज आलम के द्वारा मारपीट का मामला उठा . भिखारी ने बताया कि 27 सितंबर 2023 को सड़क हादसे में मृत गौतम कुमार का पारिवारिक सदस्यता प्रमाण पत्र बनवाने एक जून को अंचल कार्यालय आया था. नाजिर ने रूम में बंद कर मेरे साथ मारपीट की़ इसी पर सभी जनप्रतिनिधियों ने सभागार के गेट को बंद करते हुए हंगामा करने लगे. महफूज ने सदन से माफी मांगी तब जाकर लोग शांत हुए. जनप्रतिनिधियों ने मांग किया कि बाढ़ पूर्व की तैयारी चल रही है तो चिन्हित जगहों पर शुद्ध पेयजल के लिए चापाकल, स्वास्थ्य सुविधा, पॉलीथिन सहित अन्य सामग्रियों की भी तैयारी होनी चाहिए . .उस समय आनन फानन में कोई काम सही से नही हो पाता है . पंसस प्रतिनिधि अनिल कुमार ने बाढ के समय से चांदपरना बांध की सुरक्षा बढ़ाने की मांग की. सीओ ने बताया कि ज्यादा प्रभावित क्षेत्र को प्राथमिकता के आधार पर सुविधाएं उपलब्ध करायी जायेगी. अन्य अनुपस्थित अधिकारियों से जवाब मांगा जायेगा वह बैठक में क्यों नहीं पहुंचे. बैठक में प्रमुख राधिका देवी, जिला पार्षद हिमांशु कुमार गुप्ता, मुखिया जयकृष्ण प्रसाद, अभिषेक कुमार, पंकज कुमार, पंसस अमित साह, राहुल कुमार, कौशल किशोर प्रसाद, अनिल कुमार सहित मुखिया व पंसस उपथित थे़

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें