27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

टीबी के सक्रिय मरीजों की पहचान के लिए टेस्ट होंगे

टीबी के सक्रिय मरीजों की पहचान के लिए टेस्ट होंगे

-जिला को टीबी मुक्त करने के लिए चलाया जायेगा अभियान मुजफ्फरपुर. जिला को टीबी मुक्त करने के लिए अभियान चलाया जायेगा. साथ ही प्रधानमंत्री टीबी मुक्ति योजना के सफल एवं प्रभावी क्रियान्वयन करने के लिए माइक्रोप्लान बनाये जायेंगे. 2025 तक सूबे में टीबी मुक्त बनाने का लक्ष्य तय किया गया है. टीबी के सक्रिय मरीजों की पहचान के लिए टेस्ट होंगे. टीबी जैसे फैलने वाले रोग को लेकर हो रही इस प्रकार की लापरवाही को सरकार ने गंभीरता से लिया है. अब स्वास्थ्य विभाग ने निर्णय लिया है कि जिले के एक-एक प्रखंड से कम से कम दो पंचायतों का चयन कर टीबी के सक्रिय मरीजों की खोज अभियान शुरू किया जाएगा. अभियान शुरू करने के पूर्व स्वास्थ्य विभाग ने सभी जिलों के सिविल सर्जन को दिशा-निर्देश जारी किये हैं. स्वास्थ्य सचिव सह राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक की ओर से इस संबंध में सभी जिलों के सिविल सर्जनों को एक पत्र भेजा गया है. जिसमें प्रारंभ होनेवाले अभियान की जानकारी दी गई है. पत्र में कहा गया है कि टीबी उन्मूलन के लिए डाट प्लस सुपर वाइजर, काउंसलर से लेकर अन्य आवश्यक पदों पर नियुक्ति की गई है. टू्र-नेट और सीबी नाट उपकरणों के लिए चिप्स व कार्टिज का क्रय कर निरंतर आपूर्ति भी हो रही है. बावजूद टीबी मरीजों की जांच नहीं हो रही है. पत्र में कहा गया है कि जोखिम समूहों एवं ग्रामीण स्तर पर टीबी के सक्रिय मरीजों की खोज अभियान शुरू हो. अभियान के तहत सभी प्रखंडों की कम से कम दो-दो पंचायतों का चयन कर यह अभियान संचालित होगा. जिलों में अभियान की माइक्रो प्लानिंग आवश्यक है ताकि अभियान सफलता पूर्वक संचालित किया जा सके.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें