1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. kishangunj
  5. 19 people returned from china dubai malaysia and japan four missing

चीन, दुबई, मलेशिया और जापान यात्रा कर लौटे 19 लोग, चार लापता

By Radheshyam Kushwaha
Updated Date
लोगों की जांच करती स्वास्थ्य टीम
लोगों की जांच करती स्वास्थ्य टीम
Prabhat Khabar Digital Desk

किशनगंज. बिहार के हर घर में कोरोना वायरस को लेकर लोग दहशत में है. वही हाल के दिनों में विदेश से यात्रा कर लौटे किशनगंज जिले के 19 लोगों को चिह्नित प्रशासन ने किया है. कोरोना वायरस के संक्रमण व बचाव के मद्देनजर चिह्नित किये गये 19 लोगों की ट्रैवल हिस्ट्री फरवरी एवं मार्च महीने की है. चिह्नित किये गये लोग चीन, दुबई, मलेशिया और जापान से यात्रा कर लौटे है. जिनमें से चार लोग लापता है. प्रशासन की टीम उन लोगों की खोजबीन कर रही है. इन लोगों के कारण किशनगंज में दहशत का माहौल है. जानकारों का मानना है कि जांच के डर से कही चारों लोग छिपे होंगे. उनलोगों को अस्पताल में जाकर जांच करा लेनी चाहिये. चिह्नित लोगों में चार लापता कुछ समय पहले विदेश से लौटे चिह्नित लोगों के कोरोना वायरस से संक्रमित होने को लेकर जिला प्रशासन के द्वारा स्क्रीनिंग करने का निर्णय लिया गया.

डीएम के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग की टीम पासपोर्ट में दर्ज पते की जांच करने पहुंची तो उनमें से चार लोगों का कोई अता-पता नहीं चला. लापता चार लोगों में दो लोगों का मोबाइल नंबर भी गलत पाया गया. वहीं दो लोगों का मोबाइल नंबर भी उलपब्ध नहीं है. शेष 15 चिह्नित लोगों में तीन लोगों में एक अहमदाबाद में और दो दिल्ली में है. स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी ने जब उनके मोबाइल नंबर पर संपर्क किया तो उन लोगों ने स्वयं को स्वस्थ बताया. इसके अलावे 12 लोग जिले में अपने उल्लेखित पते पर पाये गये वे लोग स्वस्थ हैं, उनमें कोरोना वायरस से संक्रमण से संबंधित कोई भी लक्षण नहीं पाया गया.

इंडो-नेपाल बॉर्डर पर मेडिकल टीम कर रही स्वास्थ्य जांच

बिहार के गलगलिया इंडो नेपाल सीमा पर बॉर्डर सील के पांचवे दिन बॉर्डर पर हरेक आने जाने वाले व्यक्तियों को कतारबद्ध खड़ा कराकर भारत नेपाल सीमा पर तैनात मेडिकल टीम जांच कर रही है, इस क्रम में एसएसबी के द्वारा मेडिकल टीम को पूर्ण सहयोग दिया जा रहा है. मेडिकल टीम की जांच करने को पहुंचे ग्राम पंचायत भारत गांव के मुखिया प्रतिनिधि मुन्ना सिंह ने सभी कर्मियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिये. उन्होंने कहा कि आज विश्व के लिए कोरोना वायरस सबसे बड़ा खतरा बन चुका है. चीन से फैले इस संक्रमण ने अब दूसरे देशों के लोगों को भी अपनी चपेट में लेना शुरू कर दिया है.

चीनी लोग इस वायरस से दहशत में हैं. लोग वहां बगैर मास्क लगाए घर से बाहर नहीं निकल रहे है. बता दें चीनी सरकार ने बिना मास्क लगाए घर से बाहर निकलने पर रोक लगा दी है. लोगों को बचने के लिए कई उपाय करनी चाहिए, जैसे कि सबसे पहले कोरोना वायरस से बचने के लिए खुद की स्वच्छता बनाए रखें, अपने हाथों को साबुन और पानी से कम से कम 20 सेकंड तक धोएं. नेपाल के भी स्वास्थ्य विभाग के कर्मी मीठी पुल के उस पार पूरी तरीके से हरेक आने जाने वाले व्यक्तियों की जांच कर रहे है. अभी तक इस बॉर्डर पर एक कोरोना वायरस के संदिग्ध नहीं मिले हैं.

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें