न्यूनतम तापमान पहुंचा 12 डिग्री सेल्सियस, बढ़ी ठंड

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

गोगरी : चालू माह का दिन बीत रहा है, ठंड भी बढ़ती जा रही है. लोगों को अब दिन में भी स्वेटर, जैकेट पहनना पड़ रहा है. मंगलवार को सूर्य देव का लुका छिपी का खेल भी शुरू हो गया. जिससे ठंड कुछ अधिक ही रहा. तापमान लगातार नीचे जा रहा है. सुबह में कुहासा भी छाने लगा है.

मौसम विभाग से मिले जानकारी के अनुसार बीते एक सप्ताह में 16 डिग्री सेल्सियस तक तापमान नीचे आ गया है. मौसम विभाग से मिली जानकारी के अनुसार 30 नवंबर को अधिक तापमान 28 डिग्री सेल्सियस व न्यूनतम तापमान 14.6 डिग्री सेल्सियस था. वहीं एक दिसंबर से चार दिसम्बर तक जहां अधिकतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहा. वहीं न्यूनतम तापमान 12 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया.
वहीं 5 दिसंबर को न्यूनतम तापमान 11.3 डिग्री सेल्सियस रहा. वही 10 दिसंबर को अधिकतम तापमान 26.5 तो न्यूनतम तापमान 12.5 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया. मौसम विभाग के अनुसार 11 दिसंबर तक उत्तर बिहार के जिलों में आसमान में हल्के बादल देखे जा सकते हैं. इस दौरान मौसम शुष्क रहने का अनुमान लगाया गया है.
ठंड में बुजुर्ग रहें सतर्क कोल्ड एक्सपोजर हो सकता है जानलेवा
गोगरी. बीमारी कब किसे अपने आगोश में लेकर बेहाल कर दे. यह कहा नहीं जा सकता है. फिर भी मौसम के परिवर्तित होने से कई पुराने बीमारियों का प्रकोप तापमान में अचानक गिरावट होने और ठंड बढ़ने से बुजुर्गों में एकाएक रक्तचाप बढ़ सकता है. जिसमें पुराने व नये दोनों इस रोग के गिरफ्त में आ सकते हैं. रक्तचाप से ग्रसित मरीजों में चक्कर आना, कमजोरी होना ये लक्षण है. जिससे रोगी लकवाग्रस्त, ब्रेन हेम्रेज व हृदय गति के रुकने जैसी बीमारी की संभावना बनी रहती है.
रेफरल अस्पताल गोगरी के प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ. चंद्रप्रकाश ने बताया कि उम्र के बढ़ने के साथ ही व्यक्ति के नसों में ढीलापन आ जाता है. लिहाजा रक्त के संचार गति में अवरुद्धता आने लगती है. इस दौरान बुजुर्गों में कोल्ड एक्सपोजर से निमोनिया का प्रकोप बढ़ जाता है. जो मरीज के लिए जानलेवा भी साबित हो सकता है.
Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें