25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

केबी झा कॉलेज प्रबंधन की तानाशाह रवैये से परेशान हो रहे छात्र

कैफे में जमा करने के आदेश पर भड़का अभाविप

स्नातक द्वितीय खंड 2023-27 में ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन के लिए पीयू ने कॉलेज में प्रमाण पत्रों का जमा करने और अपडेट के बाद पीयू के वेबसाइट पर जाकर करने के आदेश को धत्ता बताते हुए प्रमाणत्रों को कैफे में जमा करने के कारण छात्र परेशान हो रहे हैं. केबी झा कॉलेज में पंजीयन के लिए प्रमाणत्र जमा नहीं करने और छात्रों को कैफे में प्रमाणपत्रों को जमा करने पर अतिरिक्त राशि व्यय करना पड़ रहा है. इसको लेकर अभाविप ने केबी झा कॉलेज के प्रभारी प्रधान सहायक के तानाशाह रवैये का जमकर विरोध जताया. अभाविप के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य विक्रांत सिंह, रवि सिंह, रोहित कुमार, कमल ठाकुर समेत अन्य ने बताया कि पीयू द्वारा तीस अप्रैल को एक पत्र जारी कर स्नातक द्वितीय खंड के छात्र छात्राओं के लिए दस मई तक ऑनलाइन पंजीयन कराने के लिए पत्र जारी किया गया. जिसके आलोक में केबी झा कॉलेज के प्रभारी प्रधान सहायक एस हादी हसन अरमान द्वारा दो मई को नोटिस जारी किया गया. जिसमें बताया गया कि छात्र-छात्राएं अपने स्तर से दिये गये समयावधि में कहीं से भी पीयू के वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन पंजीयन प्रपत्र भरा सकता है. जिसके बाद कॉलेज आने वाले छात्र छात्राओं को चिन्हित कैफे में भेजा जाने लगा. इस आलोक में प्रति छात्र एक सौ रूपये कैफे संचालकों द्वारा लिया जाने लगा. जबकि प्रमाणपत्रों की जांच कॉलेज में कर अपडेट करने के बाद पीयू के वेबसाइट पर ऑनलाइन पंजीयन डाउनलोड करना है. इस तरह कॉलेज प्रबंधन की मनमानी से छात्रों को एक सौ रूपये अतिरिक्त राशि लगाया जा रहा है. अभाविप के सदस्यों ने प्राचार्य से पंजीयन पत्र भराने के लिए कॉलेज में नोटिस जारी करने की मांग की है. कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य डॉ हरेन्द्र कुमार सिंह ने बताया कि दो मई को जारी पत्र को निरस्त कर दिया गया है. साथ ही छात्रों से कॉलेज में प्रमाण पत्रों को जमा करने के लिए आदेश दिया गया है.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें