26.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

श्रद्धालुओं से भरी ट्रैक्टर ट्रॉली में हाइवा ने मारी टक्कर, दो की मौत, 20 घायल

स्थानीय थाना क्षेत्र के उमापुर गांव से औरंगाबाद जिले के अंबा-कुटुंबा क्षेत्र अंतर्गत महुआ धाम देवी के दर्शन के लिए जा रहे श्रद्धालुओं से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली में एक हाइवा (ट्रक) ने जोरदार टक्कर मार दी, जिससे ट्रैक्टर ट्रॉली पलट गयी और दो श्रद्धालुओं की मौत हो गयी, जबकि शेष करीब 20 श्रद्धालु गंभीर रूप से घायल हो गये.

भगवानपुर. स्थानीय थाना क्षेत्र के उमापुर गांव से औरंगाबाद जिले के अंबा-कुटुंबा क्षेत्र अंतर्गत महुआ धाम देवी के दर्शन के लिए जा रहे श्रद्धालुओं से भरे ट्रैक्टर-ट्रॉली में एक हाइवा (ट्रक) ने जोरदार टक्कर मार दी, जिससे ट्रैक्टर ट्रॉली पलट गयी और दो श्रद्धालुओं की मौत हो गयी, जबकि शेष करीब 20 श्रद्धालु गंभीर रूप से घायल हो गये. यह घटना बीते बुधवार की आधी रात करीब एक बजे की बतायी जाती है. इस घटना में स्थानीय थाना क्षेत्र के उमापुर गांव निवासी बंधन कहार पिता नचकु कहार उम्र करीब 46 वर्ष तथा इसी गांव के रामाशीष बारी के दामाद अनिल कुमार गांव व थाना कुदरा की जहां मौके पर ही दर्दनाक मौत हो गयी. वहीं, उमापुर गांव निवासी दीपू पासवान, बिगाऊ कहार, तेतरी देवी, श्याम नारायण कहार, लक्ष्मीना देवी, रेशमा देवी, निर्मला देवी (वार्ड सदस्य, वार्ड 01, पंचायत सरैयां), श्याम नारायण बिंद समेत करीब 20 की संख्या में महिला-पुरुष घायल हो गये. यह घटना रोहतास जिले के चेनारी व शिवसागर थाना सीमा अंतर्गत चेनारी थाना के टेकारी-पखनारी के बीच स्थित कुदरा-सासाराम हाइवे सड़क के ओवरब्रिज के पास हुई. वहीं, घटना के संबंध में उमापुर गांव निवासी और घायलों के पड़ोसी पूर्व मुखिया धीरेंद्र सिंह के पुत्र रिशु सिंह ने बताया कि बुधवार की रात करीब 10 बजे उनके गांव से करीब दो दर्जन की संख्या में महिला व पुरुष श्रद्धालु नवरात्र में देवी दर्शन पूजन के लिए अंबा थाना क्षेत्र के महुआ धाम जाने के लिए ट्रैक्टर-ट्रॉली पर सवार होकर निकले थे. इसी क्रम में चेनारी और शिवसागर थाना क्षेत्र के सीमा पर स्थित टेकारी-पखनारी वाले हिस्से में हाइवे के ओवरब्रिज पर एक 18 चक्के हाइवा ट्रक ने श्रद्धालुओं की ट्राली में जोरदार टक्कर मार दी, जिससे ट्रैक्टर ट्रॉली अनियंत्रित होकर दो से तीन बार पलट गयी. इससे ट्रैक्टर ट्रॉली पर सवार उमापुर गांव निवासी बंधन कहार और इसी गांव के रामाशीष बारी के दामाद अनिल कुमार गंभीर चोट पहुंचने के कारण मौके पर ही दम तोड़ दिये. जबकि, ट्रैक्टर की ट्राली पर सवार महिला-पुरुष सहित करीब 20 लोग बुरी तरह से घायल हो गये. वहीं, रिशू सिंह ने बताया कि भयावह हादसे की जानकारी उन्हें तब हुई, जब घायल वार्ड सदस्य निर्मला देवी के देवर के मोबाइल पर गुरुवार की अहले सुबह करीब तीन बजे फोन आया. घटना की सूचना मिलने के बाद आनन-फानन में घायलों व मृतक परिवार के कई लोग बाइक के माध्यम से घटना स्थल पहुंचे. इधर, इससे पहले ही संबंधित थाने की पुलिस के सहयोग से मृतकों के शव तथा घायलों को सासाराम के सरकारी अस्पताल में पहुंचा दिया गया था. रिशू सिंह ने बताया कि इस हादसे में ट्रैक्टर ट्रॉली पर सवार शायदहीं कोई श्रद्धालु बचा, जिसे गंभीर चोटें नहीं पहुंची हो. इस घटना में बिगाऊ कहार, तेतरी देवी, निर्मला देवी तथा श्याम नारायण बिंद को गंभीर चोटे पहुंचने के कारण उनका प्राथमिक उपचार करने के उपरांत चिकित्सकों द्वारा उन्हें ट्राॅमा सेंटर वाराणसी रेफर कर दिया गया. इस घटना के बाद मृतकों तथा घायलों के परिवार में रोना-धोना लगा है. वहीं, पूरे उमापुर गांव में शोक का माहौल है. बोले अधिकारी……… इस संबंध में पूछे जाने पर चेनारी थाने के एसएचओ रंजय कुमार ने बताया कि इस घटना की सूचना पर उनकी पुलिस टीम घटनास्थल पर पहुंची थी, जहां से शिवसागर थाने की पुलिस के सहयोग से घायलों तथा दोनों मृतकों के शव को सासाराम के सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया. फिलहाल इस घटना को लेकर कोई आवेदन नहीं पड़ा है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें