27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

मिथिला विश्वविद्यालय ने जारी की स्नातक प्रथम सेमेस्टर में नामांकन को लेकर छात्रों की सूची

लनामिवि ने चार वर्षीय स्नातक प्रथम सेमेस्टर (सत्र 2024-28) में नामांकन के लिए प्रथम चयन सूची गुरुवार को वेबसाइट www.lnmu.ac.in पर जारी कर दी है

दरभंगा. लनामिवि ने चार वर्षीय स्नातक प्रथम सेमेस्टर (सत्र 2024-28) में नामांकन के लिए प्रथम चयन सूची गुरुवार को वेबसाइट www.lnmu.ac.in पर जारी कर दी है. डीएसडब्ल्यू प्रो. विजय कुमार यादव ने कंप्यूटर का माउस क्लिक कर सूची वेबसाइट पर अपलोड करने की प्रक्रिया की शुरुआत की. मौके पर डीएसडब्ल्यू शाखा के कर्मचारी हेमनाथ यादव, प्रवीण कुमार सिंह, रामसेवक यादव एवं आरएमएस टेक्नोसाल्यूशन एजेंसी के कर्मचारी मौजूद रहे. सूची के आधार पर आवंटित कालेजों में छात्रों का नामांकन 24 जून से चार जुलाई तक होगा. कुल 175478 आवेदकों में प्रथम चयन सूची से 131380 छात्रों का नामांकन चार जिले के 43 अंगीभूत एवं 35 संबद्ध यानी कुल 78 कालेजों में होगा. चयनित छात्राें को इसकी सूचना उनके मोबाइल पर भेजी जा रही है. प्रो. यादव ने बताया कि राज्य सरकार के 65 प्रतिशत आरक्षण नियम के आधार पर सूची जारी की गयी है. उधर, मिली जानकारी के अनुसार हाइकोर्ट की ओर से 65 प्रतिशत आरक्षण पर लगायी गयी रोक को लेकर कुलपति प्रो. संजय कुमार चौधरी ने कुलसचिव को निर्देशित किया है. इस बावत बात करने पर कुलसचिव डॉ अजय कुमार पंडित ने बताया कि 65 प्रतिशत आरक्षण पर रोक से संबंधित हाइकोर्ट के निर्णय के आलोक में सूची जारी करने को लेकर डीएसडब्ल्यू से कहा गया है. जानकारों का कहना है कि हाइकोर्ट के निर्णय के आलोक में सूची को संशाेधित नहीं किया जाता है, तो नामांकन कराने वाले छात्रों को परेशानी हो सकती है. इस बाबत प्रो. यादव से उनके मोबाइल पर संपर्क करने का कई बार प्रयास किया गया, लेकिन बात नहीं हाे सकी. चयनित छात्रों को नामांकन के लिए वेबसाइट से अपना आवेदन आइडी एवं जन्म तिथि या यूजर आइडी एवं पासवर्ड डालकर चयन पत्र डाउनलोड करना होगा. आवंटित कालेज में चयन पत्र के अलावा कॉमन एप्लिकेशन फॉर्म, सीएलसी की मूल प्रति, इंटर का प्रवेश पत्र व अंक पत्र की छायाप्रति, पासपोर्ट साइज दो फोटो, आधार कार्ड की छायाप्रति, आवश्यकता अनुसार जाति प्रमाण पत्र एवं माइग्रेशन सर्टिफिकेट साथ ले जाना होगा. छात्रों को नामांकन के पूर्व कॉलेज से आवेदन फार्म या प्रोस्पेक्टस नहीं खरीदना है. डीएसडब्ल्यू प्रो. विजय कुमार यादव ने यह जानकारी देते हुए बताया कि कुलपति प्रो. संजय कुमार चौधरी के कुशल नेतृत्व का परिणाम है कि इतनी अधिक संख्या में छात्रों का चयन प्रथम सूची में हुआ है. नामांकन प्रक्रिया में पारदर्शिता एवं अनियमितता रोकने को लेकर हर जिले में एक नोडल पदाधिकारी प्रति नियुक्त किये गये हैं. प्रधानाचार्य से कहा है कि यदि आवेदन में मेजर विषय, आरक्षण कोटि एवं लिंग को छोड़ कर अन्य किसी प्रकार की त्रुटि छात्रों से हो गयी हो, तो आवेदन लेकर सुधार कर देंगे. विश्वविद्यालय द्वारा रजिस्ट्रेशन स्लीप जारी होने से पूर्व यदि कोई छात्र नामांकन रद कराता है, तो सभी मूल अभिलेख आवेदक को वापस कर देना है. पंजीयन के बाद ऐसा होने पर ट्रांसफर सर्टिफिकेट दिया जाना है. नामांकित छात्रों का वर्गारंभ आठ जुलाई से होगा. कहा है कि प्रथम चयन सूची से नामांकन के उपरांत यदि सीट रिक्त रहने पर विषय एवं कोटिवार दूसरी सूची प्रकाशित की जा सकती है. प्राप्त जानकारी के अनुसार 37 विषयों में निर्धारित तीन लाख पांच हजार 449 सीटों पर नामांकन के लिए इस वर्ष एक लाख 75 हजार 478 छात्रों ने आवेदन किया. इतिहास, हिंदी, जंतुविज्ञान एवं भूगोल में निर्धारित से अधिक आवेदन मिला है. पिछले कई वर्षों से कालेजों में संबंधन प्राप्त 37 विषयों में से मुख्य रूप से 22 विषयों में ही छात्र-छात्रा नामांकन के लिये आवेदन कर रहे हैं.

डिस्क्लेमर: यह प्रभात खबर समाचार पत्र की ऑटोमेटेड न्यूज फीड है. इसे प्रभात खबर डॉट कॉम की टीम ने संपादित नहीं किया है

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें