1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. champaran east
  5. bihar liquor ban nepal is going to help on border decision taken in indo nepal coordination committee

बिहार में शराबबंदी को सफल बनाने के लिए मदद करेगा नेपाल, भारत-नेपाल समन्वय समिति की बैठक में हुआ फैसला

भारत सरकार के गृह मंत्रालय के निर्देश पर मंगलवार को रक्सौल स्थित एकीकृत जांच चौकी में भारत-नेपाल जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक की गयी. बैठक की अध्यक्षता पूर्वी चंपारण के डीएम शीर्षत कपिल अशोक कर रहे थे.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
बैठक में मौजूद भारत और नेपाल के प्रशासनिक अधिकारी
बैठक में मौजूद भारत और नेपाल के प्रशासनिक अधिकारी
प्रभात खबर

भारत सरकार के गृह मंत्रालय के निर्देश पर मंगलवार को रक्सौल स्थित एकीकृत जांच चौकी में भारत-नेपाल जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक की गयी. बैठक की अध्यक्षता पूर्वी चंपारण के डीएम शीर्षत कपिल अशोक कर रहे थे.

चंपारण व नेपाल के प्रशासनिक अधिकारी मौजूद रहे 

बैठक में सीमा सुरक्षा, आपराधिक गतिविधियों पर लगाम लगाने के साथ-साथ अन्य कई मसलों पर भारत-नेपाल के अधिकारियों के बीच द्विपक्षीय वार्ता हुई. बैठक में पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण व नेपाल के बारा व पर्सा जिला के प्रशासनिक अधिकारी मौजूद थे. इसके साथ ही दोनों देश के सुरक्षा निकाय से जुड़े अधिकारी भी मौजूद थे.

पर्सा के डीएम उमेश कुमार ढकाल को गॉर्ड ऑफ ऑनर

बैठक से पूर्व नेपाल से आये प्रतिनिधिमंडल का स्वागत डीएम श्री अशोक ने किया. इसके बाद बिहार पुलिस के जवानों ने पर्सा के डीएम उमेश कुमार ढकाल को गॉर्ड ऑफ ऑनर दिया. गार्ड ऑफ ऑनर के बाद औपचारिक तौर पर आइसीपी रक्सौल के सभाकक्ष में दोनों देश के अधिकारियों की बैठक शुरू हुई.

सीमा सुरक्षा को लेकर चर्चा

डीएम ने कहा कि कोरोना काल के बाद काफी लंबे समय पर यह बैठक हुई है. नेपाल में आगे निकाय चुनाव है, जिसको लेकर वहां के अधिकारियों से सीमा सुरक्षा को लेकर आवश्यक चर्चा की गयी है. साथ ही, राज्य में लागू शराबबंदी को सफल बनाने के लिए नेपाल प्रशासन से अपेक्षित सहयोग पर चर्चा की गयी है ताकि सीमा पार से शराब की तस्करी न हो.

अतिथियों को बोधी वृक्ष का प्रतिक चिह्न दिया गया

बैठक में बॉर्डर से अलग-अलग समस्याओं के साथ-साथ बाढ़, अपराध नियत्रंण के साथ-साथ कस्टम, एसएसबी, इमिग्रेशन के अधिकारियों को आ रही समस्याओं पर भी चर्चा की गयी. लिये गये निर्णय की कॉपी हैंडओवर की गयी. बैठक की शुरुआत से पूर्व जिला प्रशासन पूर्वी चंपारण की ओर से सभी आगत अतिथियों को बोधी वृक्ष का प्रतिक चिह्न दिया गया. वहीं नेपाल के बारा जिला प्रशासन के द्वारा बारा जिला में स्थित गढ़ीमाई मंदिर की तस्वीर भारतीय अधिकारियों को भेंट की गयी.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें