जल और हरियाली को बचाना होगा : सीएम

By Prabhat Khabar Digital Desk
Updated Date

बक्सर : इटाढ़ी के उनवांस में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि उनवांस की धरती कोई साधारण धरती नहीं है. साहित्यकार शिवपूजन की धरती है, जिनकी कृति युगों-युगों तक कायम रहेगी. उन्होंने कहा कि यह खास जगह है. इनके साहित्य को हम सभी युवा अवस्था से पढ़ते आ रहे हैं.

ऐसे में इस स्थल को लेकर कुछ विशेष होना चाहिए. उन्होंने अपने 43 मिनट के भाषण में जल-जीवन-हरियाली के साथ नारी सशक्तीकरण, नशामुक्ति, जीविका एवं राज्य में हुए विकास के सभी पहलुओं को अपने भाषण में समेटा. उन्होंने भीषण ठंड को झेलते हुए भी जल-जीवन-हरियाली कार्यक्रम में शामिल होने के लिए अपार जनसमूह को धन्यवाद दिया. इस दौरान उन्होंने विपक्षी पार्टियों या विपक्षी नेताओं पर किसी तरह की कोई बात नहीं रखा.
उन्होंने जिले के किसानों से खेतों में पराली नहीं जलाने का आग्रह किया. उन्होंने कृषि अवशेषों से आवश्यक व जरूरी उत्पादों से बनाए जाने वाले विभिन्न यंत्रों पर 75% किसानों को अनुदान देने की बात कहीं. मुख्यमंत्री ने अपने संबोधन में कहा कि उन्होंने कहा कि जल-जीवन व हरियाली में शुरू जल और अंत हरियाली है.
दोनों के बीच में जीवन है. यानी जल बचेगा तो हरियाली कायम होगी और जब जल और हरियाली दोनों ही कायम होगी तो उसी पर ही जीवन निर्भर है. इसे बचाना होगा. उन्होंने जल संचयन को लेकर छोटी पहाड़ी, नदियों पर जल स्रोत का सृजन करने एवं सरकारी भवन के छतों पर रेन वाटर हार्वेस्टिंग निर्माण पर जोर दिया. उन्होंने कहा कि कई राज्य व देश में भू-जल समाप्त हो गया है.
यह एक चिंता का विषय है. उन्होंने अक्षय ऊर्जा पर बोलते हुए कहा कि सूरज की रोशनी से मिलने वाली ऊर्जा अक्षय ऊर्जा है जो कभी समाप्त नहीं हो सकती है इसको लेकर सौर ऊर्जा संचालित सोलर प्लेट सरकारी भवनों पर लगाने की प्रक्रिया शुरू है. यह जल जीवन हरियाली का ही एक कार है इसके लिए भी अभियान चलाया जाना चाहिए.
चप्पे-चप्पे पर तैनाती थी पुलिस
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कार्यक्रम में प्रखंड मुख्यालय से लेकर धनसोई बाजार तक चप्पे-चप्पे पर पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती की गयी थी. हर मोड़ एवं चौक-चौराहों पर पुलिस के साथ पुलिस पदाधिकारियों की तैनाती दिखी . कार्यक्रम स्थल पुलिस छावनी में तब्दील हो चुका था. दो किलोमीटर की परिधि में चारों तरफ पुलिस बल की तैनाती की गयी थी. बता दें कि सीएम नीतीश कुमार के पूर्व में हुए कार्यक्रम में जनाक्रोश को देखते हुए प्रशासनिक स्तर पर काफी चुस्त-दुरुस्त व्यवस्था की गयी थी.
वही जीर्णोद्धार पोखरा को चारों तरफ से सील कर दिया गया था, जिससे कोई भी व्यक्ति इस मार्ग की तरफ नहीं आ सके और न ही निर्मित मंच की तरफ पहुंच सके. सुरक्षा व्यवस्था में आला अधिकारी अधिकारी सुबह से ही लगे हुए थे. सीएम के सुरक्षा दस्ते की टीम निर्धारित समय से पहुंचकर कार्यक्रम स्थल की सुरक्षा की जिम्मेदारी संभाल ली थी. डुमरांव विधानसभा से जदयू विधायक ददन पहलवान ने कहा कि राज्य में हर क्षेत्र में विकास हुआ है.
साहित्यकार शिवपूजन सहाय की प्रतिमा का किया अनावरण
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने सर्वप्रथम गांव स्थित बने पंचायत सरकार भवन का निरीक्षण व उद्घाटन किया. इसके पूर्व उन्होंने साहित्य जगत के जाने-माने साहित्यकार आचार्य शिवपूजन सहाय की प्रतिमा का अनावरण एवं पार्क का उद्घाटन भी किया. इसके बाद उन्होंने सरकार के विभिन्न विभागों द्वारा लगाये गये स्टॉल का भी निरीक्षण किया.
स्वास्थ्य विभाग, अनुसूचित जाति एवं अनुसूचित जनजाति कल्याण विभाग बिहार पटना, समाज कल्याण विभाग, जिला सामाजिक सुरक्षा कोषांग द्वारा स्टॉल लगाया गया था. इसके साथ ही डीआरसीसी द्वारा एजुकेशन से संबंधित स्टॉल लगाये गये थे. इसके साथ ही कृषि विज्ञान केंद्र द्वारा भी स्टॉल लगाया गया था, जिसमें कृषि से संबंधित सभी विभागों द्वारा अलग-अलग अपने उत्पाद एवं विशेषताओं के स्टॉल लगाये गये थे.
आने वाली पीढ़ी के लिए वरदान है जल-जीवन हरियाली योजना : संतोष
परिवहन मंत्री संतोष कुमार निराला ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने बिहार के विकास को शिखर पर पहुंचाने के लिए किया है. उन यात्राओं के माध्यम से बिहार को मानचित्र पर स्थापित करने का निर्णय लिया है. एक ऐसा सोच जो भारत एवं विश्व के लोगों के लिए अनुकरणीय है.
इस योजना को पूरा देश अनुकरण करेगा. हो सकता है, हमारे जीवन तक पानी मिल जाये. जीवन मिल जाए पर मुख्यमंत्री ने आने वाली पीढ़ी के बारे में सोचा है, जिससे आने वाली पीढ़ी को जलवायु परिवर्तन के प्रभाव से जूझना नहीं पडे.
एकजुटता के इस संकल्प से बिहार को जाना जायेगा : डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय
गुप्तेश्वर पांडे ने कहा कि शराबबंदी का चमत्कार राज्य में दिख रहा है. एकता और अखंडता की खुशबू प्रदेश में कायम हो गयी है, जो कभी जाति और संप्रदाय में विभक्त हुआ करता थी.
आज एक है. आज नये संकल्प के साथ आये हैं. जल-जीवन-हरियाली बचाने के संकल्प के साथ आपकी एकजुटता के संकल्प से दुनिया में बिहार जाना जायेगा. लोग इसे देखने के लिए पहुंचेंगे. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का आज जब भी कोई संकल्प होता है तो लोगों के लिए वरदान साबित हो जाता है.
सीएम की दूरदर्शिता ने बिहार को चमकाया है: विधायक संजय तिवारी
विधायक संजय तिवारी उर्फ मुन्ना तिवारी ने कहा कि नीतीश कुमार दूरदर्शी सोच वाले व्यक्ति हैं, जो अच्छा करते हैं. उनकी बातों को मुझे रखने में कोई परहेज नहीं. आपकी दूरदर्शिता ने बिहार को चमकाया है. नारी सशक्तीकरण की दिशा में एक नयी गति मिली है. इसके साथ ही विधायक ने कहा कि धान का कटोरा कहलाने वाले बक्सर को 3 इंच तक पानी तो मिला है, लेकिन किसान दुखी हैं.
धान की फसल सड़ रही है. गेहूं की बुआई नहीं हुई है. किसान परेशान हैं, उनका उद्धार फसल अनुदान देकर करने की कृपा करें. इसके साथ ही बक्सर किला एवं राजपूत का किला के साथ ही लाइट एंड साउंड केंद्र को एक बार पुनः जीर्णोद्धार करने की भी अपील की.
    Share Via :
    Published Date
    Comments (0)
    metype

    संबंधित खबरें

    अन्य खबरें