1. home Hindi News
  2. state
  3. bihar
  4. bihar crime news all the accused absconded after beating a man with sticks and sticks after a dispute over speeding bike rdy

तेज गति से बाइक चलाने पर विवाद के बाद युवक की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या, सभी आरोपी फरार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
तेज गति से बाइक चलाने पर विवाद के बाद युवक की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या
तेज गति से बाइक चलाने पर विवाद के बाद युवक की लाठी-डंडे से पीटकर हत्या
प्रतिकात्मक फोटो

बिहार के सारण जिले के मांझी थाना क्षेत्र के जैतपुर पंचायत स्थित बेलदारी गांव के एक युवक की लाठी-डंडे से पीट-पीट कर हत्या कर दी गयी. वहीं इस हमले में घायल एक अन्य युवक इलाजरत है. इस घटना के दौरान हो-हल्ला होने पर आसपास के लोग पहुंचे तबतक मारपीट करने वाले फरार हो गये. लोगों ने घटना की सूचना परिजनों को दी. जहां परिजन घटनास्थल पर पहुंच जख्मी दो व्यक्ति को इलाज के लिए छपरा ले गये.

चिकित्सक ने एक जख्मी की गंभीर स्थिति देख पटना रेफर कर दिया, जो रास्ते में शीतलपुर जाते पहुंचते ही दम तोड़ दिया. देर रात परिजनों ने शव को छपरा-सीवान मुख्य मार्ग पर रख जिला प्रशासन से न्याय की मांग करने लगे. स्थानीय पुलिस शनिवार की सुबह लोगों को समझा बुझाकर शव को अपने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया.

आरोपित की अविलंब गिरफ्तारी का आश्वासन के बाद लोग शांत हुए. मृतक बेलदारी गांव के रामेश्वर राय के 45 वर्षीय पुत्र कौशल राय व पशुराम राय दोनो शाम को कोहड़ा बाजार सब्जी लाने के लिए घर से जा रहे थे, तभी उसी गांव के दो युवक रास्ते मे घात लगाकर बैठे थे. जैसे ही कौशल और पशुराम रास्ते से गुजरे की अचानक लाठी से प्रहार कर बुरी तरह लहू लुहान कर दिया.

बताया जाता है कि कौशल अपने दरवाजे पर स्नान कर रहे थे, तभी गांव ही के पड़ोस के दो युवक अपने मोटरसाइकिल से तेजी रफ्तार में उनके घर के सामने से गुजर रहे थे. जहां कौशल ने गाड़ी धीमी चलाने को कहा. बातों-बातों में कहासुनी हो गयी. स्थानीय लोगों के समझाने-बुझाने के बाद मामला शांत हो गया और वही विवाद कौशल के मौत का कारण बन गया.

शव गांव पहुंचते ही परिजनों में मचा कोहराम

मारपीट में घायल कौशल का शव रात्रि दो बजे घर पहुंचा तो कोहराम मच गया. एक तरफ पिता रामेश्वर राय तो दूसरी तरफ पत्नी सविता देवी, 18 बर्षीय पुत्री ज्योति, 16 पुत्र अमन, 12 वर्षीय पुत्र विशाल शव से लिपटकर फुट-फुट कर रोने लगे. मालूम हो कि रामेश्वर राय का दो पुत्रों में कौशल छोटा पुत्र थे. जो घर का देखभाल करते थे.

घटना की जानकारी मिलते ही घटना स्थल पर एकमा पुलिस अंचल के इंस्पेक्टर बालेश्वर राय ने मामले कि स्पष्ट जांच व कार्रवाई का आश्वासन दिया. शव को पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया. वही मुखिया बच्चा राम, समाजसेवी रघुबंश सिंह उर्फ फूल सिंह, उप प्रमुख राकेश राय आदि लोगो ने पीड़ित परिवार को ढांढस बढ़ाया. वही पुलिस प्रशासन गांव में शांति व्यवस्था को लेकर प्रयासरत है.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें