1. home Home
  2. state
  3. bihar
  4. bhagalpur
  5. ranchi express will be maintained in godda railway minister ashwini vaishnav will show green signal rdy

रांची एक्सप्रेस का गोड्डा में होगा मेंटेनेंस, रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव दिखायेंगे हरी झंडी

रांची एक्सप्रेस का मेंटेनेंस भागलपुर की बजाय अब गोड्डा में होगा. इसके लिए भागलपुर व जमालपुर रेलवे के मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकिल विभाग से दर्जन भर से ज्यादा कर्मियों की प्रतिनियुक्ति गोड्डा में होगी.

By Prabhat Khabar Print Desk
Updated Date
रांची एक्सप्रेस का गोड्डा में होगा मेंटेनेंस
रांची एक्सप्रेस का गोड्डा में होगा मेंटेनेंस
फाइल फोटो.

भागलपुर . रांची एक्सप्रेस (Ranchi Express) का मेंटेनेंस भागलपुर की बजाय अब गोड्डा में होगा. इसके लिए भागलपुर व जमालपुर रेलवे के मैकेनिकल और इलेक्ट्रिकिल विभाग से दर्जन भर से ज्यादा कर्मियों की प्रतिनियुक्ति गोड्डा में होगी. इसकी प्रक्रिया मालदा रेल डिवीजन स्तर से अपनायी जा रही है. केवल भागलपुर से स्थायी तौर पर मैकेनिकल से छह एवं इलेक्ट्रिकल विभाग से दो रेलकर्मियों का नाम प्रस्तावित किया गया है.

फिलहाल, अस्थायी तौर पर भागलपुर कोचिंग डिपो के सात मेंटेनेंस स्टाफ व सुपरवाइजर के नामों पर मुहर लगी है. इसमें कैरेज एंड वैगेज के इंजीनियर, टेक्निशिसन एवं हेल्फर शामिल है. दरअसल, गोड्डा में यार्ड डेवलपमेंट की तैयारी चल रही है. यहां रांची व हमसफर एक्सप्रेस का भी मेंटेनेंस होगा. बता दें कि हमसफर एक्सप्रेस गोड्डा से चल रही है.

रांची एक्सप्रेस गोड्डा 29 सितंबर से चलेगी. सप्ताह में तीन दिन चलने वाली इस एक्सप्रेस को रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव हरी झंडी दिखायेंगे. 29 सितंबर को उद्घाटन स्पेशल ट्रेन बनकर चलेगी, जो दिन के 1.15 बजे गोड्डा से रवाना होगी. ट्रेन का नियमित परिचालन 30 सितंबर रांची से और एक अक्तूबर को गोड्डा से होगा.

बांका इंटरसिटी में लगेगा एलएचबी कोच, अब आरामदायक होगी यात्रा

भागलपुर-बांका इंटरसिटी में नीले रंग (आइसीएफ) रैक के बदले लाल रंग लिंक हाफमैन बुश (एलएचबी) कोच लगेगा. रेलवे ने इसकी स्वीकृति दे दी है. नये रैक लगने के बाद न सिर्फ सीटों की संख्या बढ़ेगी, बल्कि सफर भी पहले से आरामदेह हो जायेगा. एलएचबी रैक के साथ राजेंद्रनगर टर्मिनल से 27 और बांका से 28 सितंबर से चलेगी. नये रैक के अनुसार आरक्षण भी हो रहा है

अभी साहिबगंज-किऊल के बीच एलएचबी रैक का प्रयोग विक्रमशिला एक्सप्रेस, अंग एक्सप्रेस, एलटीटी एक्सप्रेस, मालदा इंटरसिटी, गया-कामाख्या एक्सप्रेस, ब्रह्मपुत्र मेल, अमरनाथ एक्सप्रेस, अजमेर एक्सप्रेस और हमसफर, न्यू फरक्का में हो रहा है. उच्च स्तरीय तकनीक से लैस इस कोच में बेहतर शॉक एक्जावर का उपयोग होता है. अभी सप्ताह में तीन-तीन दिन ही ट्रेन की सेवा मिलेगी. राजेंद्रनगर-बांका इंटरसिटी अभी सप्ताह में स्पेशल बनकर दोनों तरफ से तीन-तीन दिन चलेगी. इस ट्रेन के परिचालन अवधि में विस्तार कर दिया गया है.

सीट बढ़ने से कंफर्म टिकट मिलने की बनेगी गुंजाइश : एलएचबी रैक लगने के बाद से ट्रेन के जनरल, स्लीपर और एसी कोच में सीटों की संख्या बढ़ जायेगी. अभी पुराने कोच में स्लीपर में 72 बर्थ होते हैं, जबकि इसमें 80 हो जायेगी. इस तरह एसी थ्री में 64 की जगह 72 सीटें होगी. एसी टू में 48 की जगह 64 सीटें होगी. जनरल में 90 की जगह 106 सीटें हो जायेगी. 21 कोच की इस ट्रेन में जनरल आठ, स्लीपर-आठ, एसी थ्री-दो, एसी टू एक और दो पावर कार होंगे.

Posted by: Radheshyam Kushwaha

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें