22.1 C
Ranchi
Monday, March 4, 2024

BREAKING NEWS

Trending Tags:

औरंगाबाद में 700 जिंदा कारतूस के साथ गिरफ्तार हुआ अवैध हथियारों का कारोबारी, कार समेत कई विदेशी पिस्टल जब्त

इस मामले में पुलिस कप्तान स्वपना गौतम मेश्राम ने कहा कि अवैध हथियार कारोबारी कार से सात सौ जिंदा कारतूस और हथियार मिले. उसके बाद कार समेत सभी चीजों को जब्त कर लिया गया. गिरफ्तार हथियार कारोबारी धनंजय कुमार ओबरा थाना के मखरा गांव का निवासी है.

औरंगाबाद. बिहार पुलिस ने अवैध हथियारों के एक बड़े सौदागर को गिरफ्तार किया है. इस दौरान अवैध हथियार कारोबारी कार से सात सौ जिंदा कारतूस और हथियार मिले. उसके बाद कार समेत सभी चीजों को जब्त कर लिया गया. गिरफ्तार हथियार कारोबारी धनंजय कुमार ओबरा थाना के मखरा गांव का निवासी है.

खुफिया इनपुट पर कार्रवाई में मिली सफलता

इस मामले में पुलिस कप्तान स्वपना गौतम मेश्राम ने कहा कि खुफिया इनपुट मिला था कि एक अवैध हथियारों का सौदागर अरवल से असलहों की खेप लेकर कार से झारखंड की राजधानी रांची जा रहा है. इनपुट मिलते ही उन्होने औरंगाबाद के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी (एसडीपीओ) अमानुल्लाह खां को क्विक एक्शन का निर्देश दिया. उसके बाद कार से कारतूस व असलहा बरामद-निर्देश मिलते ही सदर एसडीपीओ ने औरंगाबाद नगर थानाध्यक्ष पंकज सैनी के साथ त्वरित कार्रवाई करते हुए शहर में बाइपास ओवरब्रीज के पास चेक नाका लगाकर सघन वाहन चेकिंग शुरू की.

कार से कारतूस और असलहा हुआ बरामद

वाहन जांच अभियान के दौरान ही जसोईया मोड़ के तरफ से आ रहे एक निशान ब्रांड की कार की जांच में वाहन बैठे चालक के कमर से 7.65 एमएम का मैगजीन लोडेड विदेशी पिस्टल तथा वाहन से 700 जिंदा कारतूस बरामद किया गया. बरामद सामानों में मैगजीन लोडेड एक विदेशी पिस्टल, 7.65 एमएम का 600 और 7.62 एमएम का 100 जिंदा कारतूस, 7.65 एमएम का एक मैगजीन, 24 हजार नकदी, दो मोबाईल एवं एक निशान कार शामिल है.

Also Read: बिहार में प्रति व्यक्ति 6 किलो से अधिक मछली की है सालाना खपत, जानें सबसे ज्यादा कौन सी मछली खाते हैं लोग

पहले भी जेल जा चुका है अवैध हथियार का कारोबारी

उन्होंने बताया कि मामले में अवैध आग्नेयास्त्र रखने के आरोप में औरंगाबाद नगर थाना में भादंवि. की धारा-25(1-बी) ए, 26/35 आर्म्स एक्ट के तहत कांड सं.-722/23 दर्ज किया गया है. मामले में कार चालक ओबरा थाना के मखरा निवासी धनंजय कुमार को अवैध हथियार कारोबारी मानते हुए नामजद आरोपी बनाया गया है और उसे गिरफ्तार कर न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेज दिया गया है. गिरफ्तारी के बाद अवैध हथियार कारोबारी ने पुलिस के समक्ष स्वीकार किया कि वर्ष 2009 में वह पटना जिले में अवैध हथियार रखने के मामले में जेल जा चुका है.

सर्च ऑपरेशन में ये लोग थे शामिल

पुलिस के छापेमारी दल में औरंगाबाद नगर थानाध्यक्ष पंकज कुमार सैनी, पुलिस जिला आसूचना इकाई के प्रभारी रामइकबाल यादव, स्पेशल टास्क फोर्स(एसटीएफ) की एमएलजी-1 टीम के पुलिस अवर निरीक्षक संतोष कुमार सिंह, बैजनाथ कुमार, जेसी. अभ्यानंद कुमार, चंदन कुमार, हुलास कुमार, जिला आसूचना इकाई के सिपाही भवेश कुमार चौधरी,आनंद राज एवं राहुल कुमार शामिल रहे.

You May Like

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

अन्य खबरें