1. home Hindi News
  2. sports
  3. cricket
  4. tendulkar again appeals to people do not become air for fire like corona virus

Video : तेंडुलकर ने लोगों से फिर की अपील, कोरोना वायरस जैसी ‘आग' के लिए ‘हवा' न बनें

By Sameer Oraon
Updated Date
दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए फिर दिया संदेश
दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर ने कोरोना वायरस से बचाव के लिए फिर दिया संदेश
Twitter

अपने जमाने के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंडुलकर ने लोगों से ‘लॉकडाउन' के निर्देशों को गंभीरता से लेने की अपील करते हुए आगाह किया कि ‘कोरोना वायरस अगर आग है तो इसे फैलाने वाली हवा हम हैं.' कोरोना वायरस के कारण दुनिया भर में बंद की स्थिति बनी हुई है और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार को राष्ट्र के नाम संबोधन में 21 दिनों के ‘लॉकडाउन' की घोषणा की थी.

तेंडुलकर ने कहा कि यह निराशाजनक है कि कुछ लोग इस बंद को गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. उन्होंने ट्विटर पर जारी एक वीडियो में कहा, ‘‘हमारी सरकार ने और दुनिया भर के स्वास्थ्य विशेषज्ञों ने हमसे आग्रह किया है कि हम घर पर रहें और जब तक कोई आपात स्थिति न हो हम बाहर न जाएं. लेकिन फिर भी लोग इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं. मैंने कुछ वीडियो भी देखे हैं जिनमें लोग अब भी बाहर क्रिकेट खेल रहे हैं.''

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में सर्वाधिक रन बनाने वाले बल्लेबाज ने कहा, ‘‘सभी चाहते हैं कि हम बाहर जाएं, दोस्तों से मिलें, खेल खेलें लेकिन अभी ये देश के लिए बहुत हानिकारक है. याद रखिए ये दिन छुट्टियों के दिन नहीं हैं. कोरोना वायरस अगर आग है तो इसे फैलाने वाली हवा हम हैं. इस वायरस को रोकने का एक ही तरीका है कि हम सब अपने घरों में रहें.'' तेंडुलकर ने कहा कि वह पिछले दस दिनों से घर से बाहर नहीं निकले हैं और अगले 21 दिनों तक भी वह इस पर कायम रहेंगे क्योंकि वर्तमान समय में समाज, देश और दुनिया को बचाने का एकमात्र तरीका यही है.

उन्होंने कहा, ‘‘डाक्टर, नर्स, अस्पताल के कर्मचारी जो हमारे लिए लड़ रहे हैं उनके लिए हम इतना तो कर ही सकते हैं और उनकी कही हुई बातों को मान सकते हैं. मैं और मेरा परिवार दस दिनों से दोस्तों से नहीं मिला है और अगले 21 दिन तक भी नहीं मिलेंगे.''

तेंडुलकर ने कहा, ‘‘इसे एक मौका समझें अपने परिवार के साथ समय बिताने का. आप अपने आप को, हमारे समाज को, हमारे देश को और सारी दुनिया को इस वायरस से बचा सकते हैं सिर्फ अपने अपने घरों में रहकर.''

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें