28.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का आईपीएल से टकराव नहीं होना चाहिए: जोस बटलर

जोस बटलर ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट का दुनिया की सबसे बड़ी टी20 लीग IPL से टकराव नहीं होना चाहिए.

IPL 2024: इंग्लिश क्रिकेट टीम के कप्तान जोस बटलर ने हाल ही में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के साथ कन्फ्लिक्टिंग अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट शेड्यूल के मुद्दे पर अपनी स्पष्ट राय व्यक्त करके क्रिकेट जगत में एक महत्वपूर्ण बहस छेड़ दी है. हाल के एक बयान में, बटलर ने क्रिकेट बोर्डों को अपने अंतरराष्ट्रीय मुकाबलों की प्लानिंग बनाते समय आईपीएल पर विचार करने की आवश्यकता पर जोर दिया, जिसमें खिलाड़ियों और टीमों पर इस तरह के टकराव के प्रभाव का ज़्यादा असर न पड़े.

कमिटमेंट्स का टकराव

पाकिस्तान के खिलाफ नेशनल ड्यूटी के कारण आईपीएल 2024 के अंतिम चरण से जोस बटलर, फिल साल्ट, रीस टॉपले और विल जैक जैसे प्रमुख इंग्लिश खिलाड़ियों की अनुपस्थिति ने अंतरराष्ट्रीय कमिटमेंट्स और फ्रेंचाइजी क्रिकेट के बीच संतुलन को लेकर चिंता बढ़ा दी है. इंग्लैंड और वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने इन खिलाड़ियों को पाकिस्तान के खिलाफ आगामी टी20ई श्रृंखला के लिए बुलाया, जो होने वाले टी20 विश्व कप 2024 से पहले है. इस कदम ने महत्वपूर्ण प्लेऑफ मैचों के दौरान राजस्थान रॉयल्स जैसी फ्रेंचाइजी को अपने स्टार खिलाड़ियों के बिना खेलना पड़ेगा. जिससे आईपीएल की कंसिस्टेंसी प्रभावित हुई है.

Gnpe0Scwyaahcem 1
Cricket: जोस बटलर

राष्ट्रीय टीम के प्रति जोस बटलर की वफादारी

आईपीएल में राजस्थान रॉयल्स के साथ जुड़ने के बावजूद, बटलर ने स्पष्ट कर दिया कि उनकी प्राथमिक ज़िम्मेदारी अपने देश का प्रतिनिधित्व करने में है. प्रेस को दिए अपने बयान में, बटलर ने आईपीएल के साथ टकराव वाले अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मुकाबलों से बचने के महत्व को दोहराया, और खिलाड़ियों को टी20 विश्व कप जैसे प्रमुख टूर्नामेंटों की तैयारी पर ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता पर जोर दिया. इंग्लिश क्रिकेट टीम के प्रति उनकी अटूट कमिटमेंट्स वो भी फ्रेंचाइजी कमिटमेंट्स पर, दिखता है की बटलर अपनी नेशनल टीम और देश के लिए कितने वफादार हैं.

समर्थन और आलोचना

बटलर की बातों को कुछ लोगों का समर्थन मिला है, जिसमें पूर्व कप्तान माइकल वॉन भी शामिल हैं, जिन्होंने इंग्लिश खिलाड़ियों के समर्थन में आवाज उठाई है, इस मुद्दे पर उनकी मिली-जुली प्रतिक्रिया रही है. ऑलराउंडर सैम करन, जो आईपीएल से नेशनल टीम में शामिल होने के लिए लौटे थे, उन्होंने भी ईसीबी के फैसले का समर्थन किया हैं. आईपीएल के साथ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के टकराव को लेकर चल रही बहस ने खिलाड़ियों, क्रिकेट बोर्डों और फ्रेंचाइजी द्वारा अपनी कमिटमेंट्स और प्राथमिकताओं को संतुलित करने में आने वाली चुनौतियों पर एक सवाल खड़ा किया है.

आगामी टी20 विश्व कप

जैसा कि इंग्लैंड संयुक्त राज्य अमेरिका और वेस्टइंडीज में अपने टी20 विश्व चैम्पियनशिप टाइटल को डिफेंड करने के लिए तैयार है, ध्यान इस बात पर है कि टीम वनडे विश्व कप में अपने हालिया प्रदर्शन के बाद दबाव और अपेक्षाओं से कैसे निपटेगी.

पाकिस्तान के खिलाफ आगामी T20I श्रृंखला इंग्लिश टीम के लिए एक महत्वपूर्ण तैयारी चरण के रूप में काम करेगी, जिसमें बटलर जैसे खिलाड़ी नेशनल ड्यूटी पर नए सिरे से ध्यान केंद्रित करने के साथ कप्तानी करेंगे. अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट और फ्रेंचाइजी लीग का उभरता परिदृश्य खिलाड़ियों, टीमों और क्रिकेट अधिकारियों के लिए चुनौतियां और अवसर दोनों प्रस्तुत करता है क्योंकि वे वैश्विक प्रतियोगिताओं और घरेलू लीगों के बीच संतुलन बनाने का प्रयास करते नज़र आ रहे हैं.

Also Read: भारत के मुख्य कोच की भूमिका के लिए रिकी पोंटिंग से किया गया संपर्क

RR vs RCB, IPL 2024: आरसीबी की टीम फिर साबित हुई चोकर्स, अहम मुकाबले में राजस्थान रॉयल्स से हारी

इंग्लैंड का कप्तानी करने के प्रति बटलर का अटूट कमिटमेंट, आधुनिक क्रिकेटरों द्वारा व्यस्त क्रिकेट कैलेंडर की मांगों को पूरा करने में आने वाली परेशानियों को रेखांकित करता है. जैसे-जैसे क्रिकेट की दुनिया विकसित हो रही है, अंतरराष्ट्रीय और घरेलू क्रिकेट के बीच सामंजस्यपूर्ण संतुलन की आवश्यकता खिलाड़ियों, बोर्डों और प्रशंसकों के लिए एक गंभीर मुद्दा बनी हुई है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें