1. home Home
  2. sports
  3. cricket
  4. india vs australia women 2nd odi no ball controversy smriti mandhana mithali raj rkt

IND vs AUS W: नो बॉल पर मैच हारने के बाद कप्तान मिताली हुई नाराज, तो स्मृति मंधाना ने दिया बड़ा बयान

ऑस्‍ट्रेलिया को आखिरी ओवर में जीत के लिए 13 रन की जरूरत थी और झूलन गोस्‍वामी ने इस ओवर में 6 के बाद 8 गेंद की फेंकी, जिसमें एक नो बॉल भी शामिल था.

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
IND vs AUS W
IND vs AUS W
Photo : BCCI

IND vs AUS W: ऑस्ट्रेलिया महिला टीम ने तीन मैचों की सीरीज के रोमांचक दूसरे वनडे में भारत को पांच विकेट से हराकर 2-0 की अजेय बढ़त हासिल कर ली. भारतीय टीम और अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी को रोमांच आखरी ओवर नो बॉल फेंकना मंहगा पड़ा और टीम में हार का समना पड़ा. वहीं भारतीय कप्तान मिताली राज ने अनुभवी तेज गेंदबाज झूलन गोस्वामी से शुक्रवार को यहां आस्ट्रेलिया के खिलाफ दूसरे वनडे की आखिरी गेंद ‘नो बॉल’ डालने की उम्मीद नहीं की थी जिससे ‘करो या मरो’ का मुकाबला भारत के हाथों से निकल गया.

वहीं टीम इंडिया की सलामी बल्लेबाज स्‍मृति मंधाना (Smriti Mandhana) ने इस फैसले पर किसी भी प्रकार का विवाद बढ़ने से रोक दिया. उन्‍होंने कहा कि टीम के रूप में इस गेंद का फुटेज देखना बाकी है और इसके बाद ही इस पर कोई टिप्‍पणी की जा सकती है. जब ये चीजें आपके पक्ष में जाती हैं, तो आप वास्तव में खुश होते हैं, लेकिन विवाद का हिस्सा नहीं बनना चाहते है. मैंने अभी तक गेंद को गंभीरता से नहीं देखा है.

मैच की आखिरी गेंद पर मूनी ने दो रन लेकर टीम को जीत दिला दी. भारतीय टीम इससे पहले वाली गेंद पर जीत का जश्न मनाने लगी थी, जब झूलन की गेंद पर मूनी का कैच लपक लिया गया, लेकिन तीसरे अंपायर ने कई बार रिप्ले देखकर कमर से ऊपर के फुलटॉस गेंद होने के कारण इस नो बॉल करार दिया. आखिरी ओवर में ऑस्ट्रेलिया को जीत के लिए 13 रन की जरूरत थी और गेंद झूलन के हाथ में थी. मूनी ने निकोल केरी (38 गेंद में नाबाद 39) के साथ मिलकर लक्ष्य हासिल कर टीम के जीत के क्रम को जारी रखा. दोनों ने छठे विकेट के लिए नाबाद 97 रन की साझेदारी की.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें