34.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

Kamada Ekadashi 2024: कामदा एकादशी व्रत पारण के लिए मिलेगा ढाई घंटे का समय, जानें शुभ मुहूर्त और नियम

Kamada Ekadashi 2024 Paran Timing: आज कामदा एकादशी तिथि है. आज सनातन धर्म के बहुत से लोग एकादशी व्रत है. इस व्रत का पारण 20 अप्रैल को द्वादशी तिथि में किया जाएगा. एकादशी व्रत का पारण शुभ मुहूर्त में करना शुभ होता है.

Kamada Ekadashi 2024 Paran Timing: आज बहुत से लोग कामदा एकादशी तिथि का व्रत रखे हैं. हर मास के एकादशी तिथि का व्रत विष्णु जी को समर्पित है, जो भी व्यक्ति सच्चे मन से एकादशी के दिन उपवास रखकर भगवान विष्णु की पूजा करने से मनोवांछित फलों की प्राप्ति होती है. एकादशी के दिन भगवान विष्णु के साथ मां लक्ष्मी की भी उपासना करनी चाहिए. आइए जानते हैं कि कामदा एकादशी व्रत का पारण कब किया जाएगा. पारण करने के लिए शुभ समय और नियम क्या है.

कामदा एकादशी 2024 व्रत पारण मुहूर्त

एकादशी तिथि की समाप्ति 19 अप्रैल 2024 की रात 8 बजकर 5 मिनट पर होगी, इसके बाद द्वादशी तिथि की शुरुआत हो जाएगी. कामदा एकादशी का पारण 20 अप्रैल 2024 को सुबह 5 बजकर 50 मिनट से सुबह 8 बजकर 26 के बीच किया जाएगा. व्रत पारण करने के लिए शुभ समय 2 घंटे 36 मिनट है. एकादशी व्रत का पारण शुभ मुहूर्त में ही करना होता है तभी पूजा का पूर्ण फल प्राप्त होता है.

तुलसी पत्ते से करें एकादशी व्रत का पारण

एकादशी व्रत का पारण तुलसी के पत्ते से करना चाहिए. एकादशी और द्वादशी दोनों तिथि को तुलसी का पत्ता तोड़ना वर्जित माना गया है. एकादशी व्रत पारण के लिए घर के दूसरे सदस्य से तुलसी पत्ता तोड़ने के लिए कहना चाहिए, जिन्होंने एकादशी का व्रत नहीं रखा है.

एकादशी व्रत नियम

  • कामदा एकादशी के दिन किसी दूसरे को अपशब्द न बोलें और बड़े-बुजुर्गों का सम्मान करें.
  • अगर एकादशी का व्रत रखा है तो दिनभर कुछ भी न खाएं.
  • इस दिन किसी मंदिर में भोजन या अन्न का दान का दान करें.
  • एकादशी के दिन बाल-नाखून नहीं कटवाना चाहिए.
  • एकादशी के दिन तुलसी के पत्ते भूलकर भी नहीं तोड़ना चाहिए.

Also Read: Ekadashi Vrat Upay: एकादशी पर कर सकते हैं ये टोटके, चमक जाएगी अपकी बिगड़ी किस्मत

यहां जानें अपने सवालों का जवाब

सवाल- एकादशी के दिन क्या चीज दान करना चाहिए?
जवाब- एकादशी के दिन वस्तुओं में अक्षत, पुष्प, कपड़े और धन का दान करना चाहिए. एकादशी के दिन अन्न के दान से घर हमेशा सुख-समृद्धि से भरा रहता है और घर में कभी अन्न की कमी नहीं होती है.

सवाल- एकादशी के व्रत में शाम को क्या खाना चाहिए?
जवाब- एकादशी व्रत के दौरान आलू, कुट्टू की पकौड़ी, शकरकंदी, साबुदाना और सेंधा नमक का सेवन कर सकते हैं, इसके अलावा चीनी, बादाम और दूध का भी फलाहार सकते हैं.

सवाल- एकादशी व्रत में क्या क्या पालन करना चाहिए?
जवाब- एकादशी का व्रत रखने और पूजा करने से पहले सख्त नियमों का पालन करना जरूरी होता हैं, जैसे बिना साबुन के स्नान करना, तुलसी के पत्ते न तोड़ना और पवित्रता और ब्रह्मचर्य बनाए रखना.

सवाल- एकादशी को चावल दान करने से क्या होता है?
जवाब- एकादशी के दिन चावल का दान नहीं करना चाहिए, इससे भगवान विष्णु नाराज होते हैं और व्यक्ति को अशुभ फलों की प्राप्ति होती है. धार्मिक मान्यता है कि शुक्रवार के दिन चावल का दान करने से व्यक्ति की आर्थिक स्थिति कमजोर होती है और माता लक्ष्मी की कृपा नहीं मिलती है.

सवाल- एकादशी का व्रत क्या खाकर खोलें?
जवाब- एकादशी व्रत खोलने के लिए आप किसी भी मीठी चीज का उपयोग कर सकते हैं, इसके लिए भोग में लगाएं मिठाई, फल यह कोई अन्य चीज ले सकते हैं.

सवाल- द्वादशी के दिन क्या खाना चाहिए?
जवाब- द्वादशी के दिन चावल खाना उत्तम माना जाता है. एकादशी के दिन चावल खाने से प्राणी रेंगने वाले जीव की योनि में जन्म पाता है, लेकिन द्वादशी को चावल खाकर एकादशी व्रत का पारण करने से इस योनि से मुक्ति भी मिल जाती है.

ज्योतिष संबंधित चुनिंदा सवालों के जवाब प्रकाशित किए जाएंगे
यदि आपकी कोई ज्योतिषीय, आध्यात्मिक या गूढ़ जिज्ञासा हो, तो अपनी जन्म तिथि, जन्म समय व जन्म स्थान के साथ कम शब्दों में अपना प्रश्न radheshyam.kushwaha@prabhatkhabar.in या WhatsApp No- 8109683217 पर भेजें. सब्जेक्ट लाइन में ‘प्रभात खबर डिजीटल’ जरूर लिखें. चुनिंदा सवालों के जवाब प्रभात खबर डिजीटल के धर्म सेक्शन में प्रकाशित किये जाएंगे.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें