27.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

सर्वार्थ सिद्धि योग में होगी हिंदू नववर्ष 2081 की शुरुआत, मंगल होंगे राजा, तो शनि ग्रह मंत्री

विक्रम संवत्सर के अनुसार, हिंदू नव वर्ष 2081 मंगलवार, 9 अप्रैल 2024 से शुरू होगा. यह वर्ष पिंगल के नाम से जाना जाएगा और इसका राजा मंगल और मंत्री शनि होगा. इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग का भी संयोग बन रहा है, जो इसे बेहद शुभ बना रहा है.

चैत्र मास के शुक्लपक्ष की प्रतिपदा तिथि से हिंदू नववर्ष प्रारंभ होगा. इस दिन से नये साल 2081 की शुरुआत होगी. यह संवत्सर पिंगल के नाम से जाना जाएगा और इसका राजा मंगल और मंत्री शनि होगा. मंगल और शनि इन दोनों ग्रहों का एक साथ होना अच्छा नहीं है. मंगलवार, 09 अप्रैल 2024 से नया साल शुरू होगा. ज्योतिष गणना के अनुसार, इस दिन सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग भी बन रहा है. यह संयोग ही है कि इसी दिन से नया हिंदू कैलेंडर शुरू होता है. हिंदू कैलेंडर के अनुसार, व्रत और त्योहार इसी तिथि से शुरू होते हैं.

संवत के धन का स्वामी मंगल होगा. दुर्गेश शनि, धान्येश चंद्रमा, चरणेश शुक्र, रसेश गुरु, नीरेश मंगल, मेघेश शनि रहेंगे. नए साल के पहले दिन रेवती नक्षत्र और शुभ योग रहेगा. इस दिन चंद्रमा और बृहस्पति का राशि परिवर्तन बहुत ही शुभ बात है. शनि, चंद्रमा, सूर्य और शुक्र मीन राशि में रहेंगे. मीन राशि में ग्रहों का संयोग बन रहा है. इस दिन को अलग-अलग नामों से भी जाना जाता है.

ब्रह्मा ने सृष्टि की रचना की थी और सत्ययुग का प्रारम्भ भी इसी दिन से हुआ था. भगवान राम का अभिषेक भी हुआ. इस दिन से बसंत नवरात्रि की शुरुआत होती है, इसलिए इस तिथि को बहुत महत्वपूर्ण माना जाता है. इस दिन सभी शुभ कार्य किये जाते हैं.

कैसा होगा नया साल?

नए संवत में शनि और मंगल एक साथ होने से आपस में मतभेद रहेंगे, छोटी-छोटी बातों पर लोग एक-दूसरे को चिढ़ाएंगे, लेकिन लोग पूजा-पाठ में ध्यान देंगे, इस दौरान जातक की बौद्धिक क्षमता का विकास होगा. लेकिन आरोप-प्रत्यारोप तो जारी रहेंगे. राज्याधिकारों को लेकर मतभेद रहेंगे. सीमाओं को लेकर विवाद उत्पन्न हो सकता है. शेयर बाजार में तेजी आएगी, अर्थव्यवस्था अनुकूल स्थिति में होगी. मौसम अच्छा नहीं रहेगा लेकिन बीच-बीच में पठारी इलाकों में आपदा आएगी.

नये साल में क्या करें?

नव संवत्सर के दिन अपने घर को साफ करें, स्नान करें, अपने कुल देवता की पूजा करें, घर के मुख्य दरवाजे पर तोरण लगाएं और अपने घर में स्वास्तिक भी बनाएं. लेकिन घर के सामने भगवा रंग का धार्मिक ध्वज विधि-विधान से पूजा करने के बाद ही फहराना चाहिए. इस दिन घर में हवन करने से वास्तु दोष के साथ-साथ ग्रह दोष भी दूर हो जाते हैं, ब्राह्मण को भोजन कराएं, तिलक लगाएं, आपके सभी रुके हुए काम पूरे हो जाएंगे.

नये साल के दिन क्या न करें?

नए साल के दिन अनुशासन में रहें, सात्विक भोजन करें और इस दिन किसी से पैसे न लें.

ज्योतिषाचार्य संजीत कुमार मिश्र
ज्योतिष वास्तु एवं रत्न विशेषज्ञ
8080426594/9545290847

Also Read : 12 दिनों तक विविध समुदायों के पर्व-त्योहार की रहेगी धूम, भागलपुर में दिखेगा उत्सवी माहौल

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें