Advertisement

ranchi

  • Feb 25 2019 7:26AM
Advertisement

रांची : डीसी लाइन पर 619 दिन बाद रेल परिचालन शुरू, यात्रियों में उत्साह

रांची : डीसी लाइन पर 619 दिन बाद रेल परिचालन शुरू, यात्रियों में उत्साह

परिचालन शुरू होने से यात्रियों में उत्साह, रांची से खुली तीन ट्रेनें इसी रूट से गयीं

रांची : 619 दिनों  से बंद पड़ी धनबाद-चंद्रपुरा (डीसी) रेल लाइन पर रविवार से ट्रेनों का परिचालन शुरू हो गया. यात्रियों के चेहरे पर इस रूट से ट्रेनों का परिचालन शुरू होने की खुशी साफ दिख रही थी. धनबाद, कतरासगढ़  सहित अन्य इलाके के लिए अब रांची से कई सीधी ट्रेनें की सुविधा उपलब्ध हो गयी है. रविवार को रांची से  एलेप्पी-धनबाद एक्सप्रेस, हटिया-गोरखपुर मौर्य  एक्सप्रेस और रांची-धनबाद इंटरसिटी एक्सप्रेस इस मार्ग से गयी है. वहीं, धनबाद से एलेप्पी सहित अन्य ट्रेनें इस मार्ग से आयीं.

कतरासगढ़ में आयोजित हुआ समारोह : डीसी लाइन में ट्रेनों का परिचालन दोबारा शुरू होने की खुशी में कतरासगढ़ में एक समारोह का आयोजन किया गया था. इसके लिए कतरासगढ़ स्टेशन को आकर्षक ढंग से  सजाया संवारा गया था. पूरे स्टेशन परिसर को तिरंगा झंडा से पाट दिया गया  था. उद्घाटन कार्यक्रम में न  सिर्फ कतरास, बल्कि बाघमारा विधानसभा क्षेत्र,  चंद्रपुरा, बोकारो, तोपचांची,  राजगंज, तेतुलमारी से भी लोग पहुंचे थे. 

सांसदाें- विधायकों ने रवाना किया ट्रेन को 

13351 अप  धनबाद-एलेप्पी एक्सप्रेस को कतरासगढ़ स्टेशन पर हरी झंडी दिखा रवाना किया  गया. एलेप्पी एक्सप्रेस दिन के 11:20 बजे कतरासगढ़ स्टेशन पहुंची. यहां धनबाद के सांसद पीएन  सिंह, गिरिडीह सांसद रवींद्र कुमार पांडेय, बाघमारा विधायक ढुल्लू महतो,  धनबाद विधायक राज सिन्हा, डीआरएम अनिल कुमार मिश्रा ने  11:28  बजे ट्रेन को रवाना किया. इस अवसर पर एजीआरएम अशोक कुमार,  सीनियर डीएसएम आशीष कुमार, सीनियर डीएन को-ऑर्डिनेशन बीके सिंह, सीनियर  डीएसटीइ अजीत कुमार, सीनियर डीइइजी दिनेश कुमार, एससी दीवान शुक्ला, एओएमजी  प्रवीण कुमार, सीनियर एसडीआइएम कुणाल सहित अन्य उपस्थित थे. 

अब इन ट्रेनों को इस मार्ग से जाना है : हैदराबाद अौर  सिकंदराबाद एक्सप्रेस, रांची-जयनगर एक्सप्रेस   जो ट्रेनें अब भी बंद हैं : रांची-भागलपुर एक्सप्रेस, रांची-हावड़ा इंटर सिटी एक्सप्रेस वाया धनबाद   जिनके फेरे बढ़ाये जाने हैं : रांची-गुवाहाटी कामाख्या एक्सप्रेस. फिलहाल सप्ताह में एक ही दिन चल रही है, जबकि पहले दो दिन चला करती थी.

 

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement