Advertisement

lucknow

  • May 19 2017 10:10AM

रसगुल्ले की वजह से पंडाल बना अखाड़ा, सब्जी चेहरे में लगाए बाराती बिना दुल्हन के ही लौटे, पढें पूरा मामला

रसगुल्ले की वजह से पंडाल बना अखाड़ा, सब्जी चेहरे में लगाए बाराती बिना दुल्हन के ही लौटे, पढें पूरा मामला

लखनऊ: एक शादी सिर्फ इसलिए कैंसिल हो गयी क्योंकि रसगुल्लों की वजह से पंडाल लड़ाई का मैदान बन गया. यह वाक्या उत्तर प्रदेश के जिले उन्नाव का है. मीडिया में चल रही खबर के अनुसार खुंटहा गांव के रहने वाले एक युवक की शादी कर्मापुर गांव की युवती के साथ तय हुई थी. बारात बड़े ही धूमधाम से गांव पहुंची थी और जमकर स्वागत भी हुआ. नाचते-गाते बाराती वधु पक्ष के दरवाजे पहुंचे जहां उनपर गुलाब के फूलों की वर्षा की गयी. सब कुछ ठीक-ठाक चल रहा था. जयमाल के वक्त बारातियों को स्नैक्स के साथ कोल्ड ड्रिंक और कॉफी दी गयी.

 
जयमाल के बाद दुल्हन के पिता ने सभी बारातियों से कहा कि वह पहले खाना खा लें ताकि इसके आगे का कार्यक्रम शुरू किया जा सके. बारातियों के खाने की व्यवस्था अलग से पंडाल में की गयी थी. शानदार व्यवस्था देख सभी बाराती खुश थे. तभी अचानक दुल्हन और दूल्हे के चचेरे भाई के बीच बहस शुरू हो गयी.
 
दरअसल खाने की प्लेट पर बाराती पक्ष वालों में से एक ने दो रसगुल्ले रख लिये थे जबकि दुल्हन पक्ष के जिस रिश्तेदार को मिठाई के स्टॉल की जिम्मेदारी दी गयी थी उसे शायद बोला गया था कि हर बाराती को एक ही रसगुल्ला परोसा जाएगा. खबर है कि उसने अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए रसगुल्ले को लेकर टोका. इस पर दोनों के बीच बहस शुरू हो गयी और थोड़े ही देर में दूसरे बाराती भी वहां पहुंच गए और मारपीट शुरू हो गयी.
 
थोड़ी ही देर में पंडाल के पास नजारा कुश्ती का मैदान जैसा दिखने लगा और बुरी तरह से दोनों पक्ष भिड़ गये. बारातियों और वधु पक्ष के बीच भयंकर हाथापाई चल रही थी. लोग एक दूसरे पर प्लेट फेंकने से भी बाज नहीं आए. दुल्हन के पिता ने सभी बारातियों को समझान की कोशिश की लेकिन कोई भी मानने के लिए तैयार नहीं था. बारातियों ने दुल्हन के पिता के साथ धक्कामुक्की भी कर डाली जिसके बाद मामला और बिगड़ गया.
 
इसी बीच किसी ने पुलिस को खबर कर दी जिसने मौके पर पहुंच कर मामले को शांत कराया. इसके बाद गांव में पंचायत बुलायी गयी जिसमें फैसला लिया गया कि शादी को आगे बढ़ाया जाए लेकिन बारातियों के उत्पात से नाराज दुल्हन ने शादी से करने से इनकार कर दिया. उसने लाख मनाने के बाद भी शादी के लिए हामी नहीं भरी. फिर क्या था मिठाई और सब्जी चेहरे और कपड़ों में लगाए बाराती बिना दुल्हन के ही वापस लौट गये.
Advertisement

Comments