Advertisement

lucknow

  • Jan 5 2019 6:03PM
Advertisement

अवैध रेत खनन मामला : अखिलेश और सपा के एक अन्य नेता को सीबीआई कर सकती है तलब

अवैध रेत खनन मामला : अखिलेश और सपा के एक अन्य नेता को सीबीआई कर सकती है तलब
file photo

लखनऊ/नयी दिल्‍ली : सीबीआई ने अवैध रेत खनन मामले में शनिवार को 14 स्थानों पर तलाशी ली. साथ ही, उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव और सपा के एक अन्य नेता को भी केंद्रीय जांच एजेंसी द्वारा तलब किए जाने की संभावना है.

 

अधिकारियों ने बताया कि सीबीआई ने जिन प्रमुख लोगों के आवासों में तलाशी ली है, उनमें 2008 बैच की आईएएस अधिकारी बी चंद्रकला भी शामिल हैं. वह कथित तौर पर भ्रष्टाचार रोधी अपने अभियान को लेकर सोशल मीडिया पर चर्चित रही हैं.

उन्होंने बताया कि जालौन, हमीरपुर, लखनऊ और दिल्ली सहित कई स्थानों पर तलाशी ली गई. अखिलेश के अलावा सीबीआई द्वारा गायत्री प्रजापति से भी पूछताछ किए जाने की संभावना है. चित्रकूट निवासी एक महिला द्वारा बलात्कार का शिकायत दर्ज कराये जाने के बाद प्रजापति को 2017 में गिरफ्तार किया गया था.

अधिकारियों ने बताया कि अखिलेश के पास 2012 से जून 2013 के बीच खनन विभाग का अतिरिक्त प्रभार था. यह आरोप है कि लोक सेवकों ने 2012 - 16 के दौरान अवैध खनन की इजाजत दी और खनन पर राष्ट्रीय हरित अधिकरण (एनजीटी) के प्रतिबंध के बावजूद लाइसेंसों का अवैध रूप से नवीनीकरण किया.

यह भी आरोप है कि अधिकारियों ने खनिजों की चोरी कराई, पट्टे लेने वालों और वाहन चालकों से धन की वसूली की. गौरतलब है कि खनिजों के अवैध खनन के मामले में 2016 में इलाहाबाद उच्च न्यायालय के निर्देशों पर सीबीआई ने सात प्राथमिक जांच दर्ज की थी. लोक सेवकों, 11 लोगों और अज्ञात लोगों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की विभिन्न धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement