Advertisement

calcutta

  • Aug 18 2019 9:37PM
Advertisement

नेताजी के मृत्यु विवाद को सुलझाने के लिए एसआईटी का गठन करे केंद्र : चंद्र कुमार बोस

नेताजी के मृत्यु विवाद को सुलझाने के लिए एसआईटी का गठन करे केंद्र : चंद्र कुमार बोस

कोलकाता : नेताजी सुभाष चंद्र के प्रपौत्र व भाजपा नेता चंद्र कुमार बोस ने नेताजी सुभाष चंद्र बोस की मृत्यु के तथ्यों को उजागर करने के लिए केंद्र सरकार से स्पेशल इनवेस्टिगेटिव टीम (एसआईटी) गठित करने की मांग की है, जिससे नेताजी की मृत्यु को लेकर विवाद का समाधान सामने आ सके. 

 

उल्लेखनीय है कि रविवार को केंद्र सरकार द्वारा नेताजी के 18 अगस्त 1945 को लापता होने के दिन को पुण्यतिथि के रूप में मानकर श्रद्धांजलि अर्पित की गयी है. श्री चंद्र बोस ने कहा कि नेताजी की मृत्यु के रहस्य के उजागर के लिए केंद्र सरकार ने शहनवाज कमेटी तथा खोसला कमेटी का गठन किया था. 

 

इसमें नेताजी की मृत्यु विमान दुर्घटना में बतायी गयी थी, लेकिन 1999 में स्वर्गीय प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी ने न्यायाधीश मुखर्जी के नेतृत्व में जांच कमेटी का गठन की थी. इस कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में कहा था कि नेताजी की मृत्यु विमान दुर्घटना में नहीं हुई है, लेकिन इसके तथ्य कमेटी नहीं दे पायी.

 

उन्होंने कहा कि वह यह नहीं मानते हैं कि नेताजी की मृत्यु से संबंधित उनके तथ्य सही हैं, लेकिन उन्होंने इस पर प्रश्न उठाये थे. कुल तीन रिपोर्ट सरकार के पास है. सरकार पूरी तथ्य की जांच के लिए स्पेशल जांच टीम का गठन करे, जो सही तथ्य का उजागर करे.

 

उन्होंने कहा कि पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने जून 2016 में जापान, रूस, इंगलैंड और जर्मनी को पत्र लिखकर नेता जी से संबंधित कागजातों की सूचना मांगी थी. इस पर जापान छोड़कर सभी देशों ने कहा कि नेताजी से संबंधित सूचनाएं वे लोग सार्वजनिक कर चुके हैं, जबकि जापान ने पांच में से केवल दो फाइल सार्वजनिक की है. तीन फाइल सार्वजनिक नहीं की गयी है.

 

उन्होंने सवाल उठाया कि क्या केंद्र सरकार के पास यह पुख्ता सूचना है कि नेताजी की मौत विमान दुर्घटना में हो गयी थी. तभी 1945 को उनके पुण्य तिथि के रूप में बताया गया है. उन्होंने कहा कि इस बाबत वह प्रधानमंत्री को पत्र लिखेंगे.

Advertisement

Comments

Advertisement
Advertisement