1. home Hindi News
  2. national
  3. toolkit case know who is climate activist disha ravi what is connection with greta thanberg and toolkit kisan andolan hindi news latest khabar avd

Toolkit Case : जानें कौन है दिशा रवि, क्या है Greta Thunberg और टूलकिट के साथ कनेक्शन ?

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
जानें कौन है दिशा रवि
जानें कौन है दिशा रवि
twitter
  • क्लाइमेट एक्टिविस्ट हैं दिशा रवि, बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में किया ग्रेजुएशन

  • दिशा रवि ने किसान आंदोलन के समर्थन में टूलकिट को किया एडिट और शेयर

  • दिशा रवि बेंगलुरु के माउंट कार्मेल की छात्रा हैं

केंद्र सरकार के तीन कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली के विभिन्न बॉर्डरों पर हजारों किसानों का विरोध प्रदर्शन जारी है. किसानों के प्रदर्शन को लगातार समर्थन मिलता जा रहा है. देश के साथ-साथ विदेशों से भी किसानों को समर्थन मिल रहा है. लेकिन किसानों के प्रदर्शन की आड़ में देश की छवि को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर खराब करने की साजिश भी रची गयी. जिसमें दिल्ली पुलिस ने कई लोगों के खिलाफ एफआईआर भी दर्ज किया है. जिसमें ग्रेटा थनबर्ग सबसे अधिक चर्चा में रही और पुलिस ने उनके खिलाफ भी मामला दर्ज किया है. थनबर्ग टूलकिट को लेकर चर्चा में आयी. उस घटना के बाद टूलकिट को लेकर देश भर में बवाल मचा है.

अब उसी टूलकिट को लेकर जलवायु कार्यकर्ता दिशा रवि की भी गिरफ्तारी हुई है. दिशा रवि (21) को गत शनिवार को बेंगलुरु से गिरफ्तार किया गया था और दिल्ली की एक अदालत ने उसे रविवार को पांच दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया. वहीं किसानों के प्रदर्शन से जुड़ी ‘टूलकिट' सोशल मीडिया पर साझा करने के आरोप में दो लोगों के खिलाफ गैर-जमानती वारंट जारी किया गया है. दूसरी ओर दिशा की गिरफ्तारी को लेकर राजनीति भी जारी है. अब सवाल उठता है कि दिशा रवि कौन हैं और थनबर्ग और टूलकिट से उनका क्या लेना है. इसके अलावा राजनीतिक पार्टियां उनका समर्थन क्यों कर रही हैं.

कौन है दिशा रवि ?

दरअसल किसानों के आंदोलन को लेकर थनबर्ग ने टूलकिट का प्रयोग किया, जिसे पुलिस ने गलत पाया. अब उसी टूलकिट को लेकर दिशा पर आरोप है कि उसने कथित रूप से उसे एडिट किया और उसे प्रमोट किया. दिल्ली पुलिस ने भी पूछताछ के बाद बताया कि दिशा ने टूलकिट को शेयर किया और देश की धरोहरों को नुकसान पहुंचाने की साजिश में शामिल हुई. पुलिस के अनुसार रवि इस 'टूल किट' की मुख्य एडिटर थीं. दिल्ली पुलिस की साइबर सेल का दावा है कि दिशा ने ही यह टूलकिट ग्रेटा के साथ साझा की थी. पुलिस का यह भी दावा है कि बाद में सोशल मीडिया पर ग्रेटा को टूल किट डिलीट करने को भी दिशा ने ही कहा था.

आपको बता दें कि दिशा रवि बेंगलुरु के माउंट कार्मेल की छात्रा हैं. इसके अलावा दिशा ग्लोबल क्लाइमेट स्ट्राइक मूवमेंट शुरू करने वाली संस्था एफएफएफ की सह-संस्थापक भी हैं. बताया जा रहा है कि दिशा ने माउंट कार्मल से बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन में ग्रेजुएशन किया है. फिलहाल वो गुड माइल्क कंपनी के साथ जुड़ी हैं.

दिशा के पिता हैं एथलेटिक्स कोच

दिशा के पिता का नाम रवि है, जो मैसूरु में एथलेटिक्स कोच हैं. हालांकि उनकी मां एक गृहिणी हैं.

क्यों गिरफ्तार हुई दिशा ?

दरसअसल ग्रेटा थनबर्ग ने किसान आंदोलन के समर्थन में एक टूलकिट ट्वीट किया था, जिसमें किसान आंदोलन को लेकर केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को निशाना साधने और देश की छवि को बदनाम करने की साजिश रची गई थी. अब उसी टूलकिट को शेयर करने और एडिट करने वालों की तलाश हो रही है. इस सिलसिले में पुलिस ने दिशा रवि को गिरफ्तार किया है. इसके अलावा निकिता जैकब और शांतनु के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है.

पुलिस ने बताया कि निकिता जैकब और शांतनु के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी किया गया है. इन पर दस्तावेज तैयार करने और खालिस्तान-समर्थक तत्वों के सीधे सम्पर्क में होने का आरोप है.

Posted By - Arbind kumar mishra

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें