1. home Hindi News
  2. national
  3. there will be no celebration on the completion of seven years of narendra modi government bjp will serve in one lakh villages aml

मोदी सरकार के सात साल पूरे होने पर नहीं होगा कोई जश्न, एक लाख गांव में सेवा कार्य करेंगे भाजपाई

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह
PTI Photo

7 years of Narendra Modi government नयी दिल्ली : केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi government) के सात साल पूरे हो गये हैं. इस बार कोरोनावायरस संक्रमण (Coronavirus Pandemic) के दौर में भाजपा ने कोई बड़ा आयोजन करने का निर्णय नहीं लिया है. भाजपा कार्यकर्ता सरकार के सात साल पूरे होने पर गांवों में जाकर सेवा कार्य करेंगे और कोरोना के इस संकट भरे दौर में लोगों की सेवा करेंगे. भाजपा ने अपने कार्यकर्ताओं को देश भर के करीब एक लाख गांव तक पहुंचने और वहां सेवा कार्य करने का निर्देश दिया है.

साल 2020 में भी कोरोनावायरस संक्रमण की पहली लहर के कारण भाजपा ने मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल की पहली वर्षगांठ को सादे ढंग से बनाया था. भाजपा नेताओं और केंद्रीय मंत्रियों ने ऑनलाइन सभाओं का आयोजन किया था और जनता को सरकार की उपलब्धियों के बारे में जानकारी दी थी. इस साल कोरोना की दूसरी लहर में मोदी सरकार की चारों ओर से आलोचना हो रही है.

खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी विपक्ष के निशाने पर हैं. कोरोना की दूसरी लहर से निपटने में मोदी सरकार को पूरी तरह फेल बताया जा रहा है. राहुल गांधी ने तो स्पष्ट तौर पर कह दिया है कि प्रधानमंत्री की नाकामी के कारण ही भारत कोरोना के दूसरी लहर की मार झेल रहा है. कोरोना के कारण हुई मौतों के लिए प्रधानमंत्री मोदी जिम्मेदार हैं. सरकार लोगों को स्वास्थ सुविधा देने में पूरी तरह नाकाम रही है.

देश भर के एक लाख और यूपी के 23 हजार गांवों में होगा सेवा कार्य

भाजपा के शीर्ष नेतृत्व ने पार्टी कार्यकर्ताओं से कहा है कि वे इस साल सरकार की वर्षगांठ पर कोई भी सार्वजनिक कार्यक्रम का आयोजन न करें और गांवों में जाकर लोगों की सेवा करें. ऐसे लोगों को प्राथमिकता के आधार पर मदद पहुंचाएं जिन्होंने कोरोना काल में अपने परिजनों को खोया है. वहीं यूपी की योगी सरकार ने 23 हजार गावों को चिह्नित किया है जहां, सेवा कार्य किये जायेंगे. पार्टी के सांसद, विधायक और अधिकारी इन गांवों में जाकर सेवा कार्य करेंगे.

कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को 10 लाख देगी मोदी सरकार

केंद्र सरकार ने सातवें वर्षगांठ पर देश में कोरोनावायरस संक्रमण से अनाथ हुए बच्चों के लिए कई कल्याणकारी योजनाओं की घोषणा की. नरेंद्र मोदी ने कहा कि ऐसे बच्चों को सरकार 10 लाख रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करेगी, जिन्होंने कोरोना संक्रमण के कारण अपने माता और पिता दोनों को खो दिया. ऐसे बच्चों को 18 वर्ष की आयु पूरी करने पर मासिक वित्तीय सहायता और 23 वर्ष की आयु पूरी करने पर पीएम केयर्स फंड से 10 लाख रुपये की राशि मिलेगी. केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने पिछले दिनों बताया था कि एक अप्रैल से 25 मई के बीच देश भर में करीब 577 बच्चे कोविड-19 के कारण अनाथ हुए हैं.

कोविड-19 से जान गंवाने वालों के आश्रितों को पेंशन

केंद्र सरकार ने कोविड-19 के कारण जान गंवाने वालों के आश्रितों को पेंशन देने की घोषणा की है. प्रधानमंत्री कार्यालय की ओर से जारी एक बयान में कहा गया कि आश्रितों के लिए पेंशन के अलावा सरकार बढ़ा हुआ एवं उदार बीमा मुआवजा सुनिश्चित करेगी. पीएम मोदी ने कहा कि सरकार की इन कदमों से ऐसे परिवार सम्मानजनक जीवन जी सकेंगे. सरकार उनके साथ खड़ी है. बयान में कहा गया कि इन व्यक्तियों के आश्रित परिवारिक सदस्य मौजूदा मानदंडों के अनुसार संबंधित कर्मचारी या कामगार के औसत दैनिक वेतन या पारिश्रमिक के 90 प्रतिशत के बराबर पेंशन का लाभ पाने के हकदार होंगे. यह लाभ 24 मार्च 2020 से लागू माना जायेगा और इस तरह के सभी मामलों के लिए यह सुविधा 24 मार्च 2022 तक उपलब्ध होगी.

Posted By: Amlesh Nandan.

Share Via :
Published Date

संबंधित खबरें

अन्य खबरें