25.1 C
Ranchi

BREAKING NEWS

Advertisement

NEET-UG 2024 Controversy: सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र और NTA को जारी किया नोटिस, शिक्षा मंत्री के आवास के बाहर NSUI का विरोध

NEET-UG, 2024 से संबंधित याचिकाओं पर गुरुवार को भी सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई हुई. जिसमें छात्रों द्वारा दायर याचिका में केंद्र और एनटीए को नोटिस जारी किया है.

NEET-UG 2024 Controversy: सुप्रीम कोर्ट ने NEET-UG 2024 को रद्द करने के अनुरोध वाली याचिका सहित अन्य याचिकाओं पर राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA), केंद्र और अन्य से जवाब मांगा. वैसे छात्र जो मेघालय केंद्र में NEET-UG परीक्षा के लिए उपस्थित हुए थे और कथित तौर पर उनको 45 मिनट कम मिले थे. उन्होंने प्रार्थना की थी कि उन्हें उन 1563 छात्रों में शामिल किया जाना चाहिए, जिन्हें ग्रेस मार्क्स मिले थे और जिन्हें 23 जून को फिर से परीक्षा देने का विकल्प दिया गया था. सुप्रीम कोर्ट ने याचिकाओं पर सुनवाई 8 जुलाई को तय की है.

सुप्रीम कोर्ट ने NTA द्वारा दायर याचिका पर भी नोटिस जारी किया

सुप्रीम कोर्ट ने नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा दायर याचिका पर पक्षकारों को नोटिस जारी किया है, जिसमें NEET-UG, 2024 से संबंधित याचिकाओं को हाई कोर्ट से सुप्रीम कोर्ट में स्थानांतरित करने की मांग की गई है. सुप्रीम कोर्ट ने इन मामलों में हाई कोर्ट के समक्ष कार्यवाही पर रोक लगा दी है. सुप्रीम कोर्ट ने फिर दोहराया कि कोर्ट काउंसलिंग प्रक्रिया को नहीं रोकेगा.

कर्नाटक कांग्रेस नेता प्रियांक खरगे ने मोदी सरकार पर किया हमला

NTA द्वारा UGC-NET परीक्षा को रद्द करने पर कर्नाटक कांग्रेस नेता प्रियांक खरगे ने कहा, जब हम इसके बारे में बोल रहे थे तो बीजेपी मजाक उड़ा रही थी और कह रही थी कि यह कोई मुद्दा नहीं है. सरकार खुद स्वीकार कर रही है कि बिहार में 4 लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मंत्रियों और प्रधानमंत्री को लोगों को जवाब देने की जरूरत है. प्रधानमंत्री को परीक्षा पर चर्चा करने में बहुत रुचि है तो इस बार प्रधानमंत्री को परीक्षा पर चर्चा हो जाने दीजिए. प्रधानमंत्री NEET और NET परीक्षा पर चर्चा क्यों नहीं कर रहे हैं?

शिक्षा मंत्री के आवास के बाहर एनएसयूआई का विरोध प्रदर्शन

एनएसयूआई (भारतीय राष्ट्रीय छात्र संगठन) ने नीट और यूजीसी-नेट के मुद्दे पर दिल्ली में केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान के आवास के बाहर विरोध प्रदर्शन किया. प्रदर्शनकारियों को पुलिस ने जल्द ही हिरासत में ले लिया.

यूजीसी नेट की परीक्षा रद्द

मेडिकल में प्रवेश के लिए होने वाली राष्ट्रीय पात्रता-सह-प्रवेश परीक्षा (नीट)-स्नातक 2024 में कथित अनियमितताओं को लेकर उपजे विवाद के बीच, शिक्षा मंत्रालय ने राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (एनटीए) द्वारा आयोजित यूजीसी-नेट परीक्षा रद्द करने का बुधवार को आदेश दिया और मामले को गहन जांच के लिए केंद्रीय अन्वेषण ब्यूरो (सीबीआई) को सौंपा गया है.

‘लीक और फ्रॉड’ के बिना कोई परीक्षा आयोजित नहीं कर सकती मोदी सरकार : कांग्रेस

कांग्रेस ने यूजीसी-नेट परीक्षा को रद्द किए जाने के बाद केंद्र सरकार को आड़े हाथ लेते हुए आरोप लगाया कि मोदी सरकार लीक और फ्रॉड के बिना कोई परीक्षा आयोजित नहीं कर सकती. कांग्रेस महासचिव जयराम रमेश ने सोशल मीडिया मंच ‘एक्स’ पर पोस्ट किया, नॉन-बायोलॉजिकल प्रधानमंत्री हर साल ‘परीक्षा पे चर्चा’ नाम से एक भव्य तमाशा करते हैं. मगर, उनकी सरकार लीक और फ्रॉड के बिना कोई भी परीक्षा आयोजित नहीं कर सकती. उन्होंने कहा, नीट-स्नातक 2024 परीक्षा को लेकर बेहद गंभीर सवाल खड़े हुए हैं. शिक्षा मंत्री को भी इन्हें स्वीकार करने के लिए मजबूर होना पड़ा है. एनटीए की ईमानदारी गंभीर संदेह के घेरे में है.

Prabhat Khabar App :

देश, एजुकेशन, मनोरंजन, बिजनेस अपडेट, धर्म, क्रिकेट, राशिफल की ताजा खबरें पढ़ें यहां. रोजाना की ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज कवरेज के लिए डाउनलोड करिए

Advertisement

अन्य खबरें

ऐप पर पढें