1. home Hindi News
  2. national
  3. madhya pradesh by election 2020 congress kamal nath attack on shivraj singh chauhan bjp vs congress mp by poll washing powder daag amh

Madhya Pradesh by Election 2020: मध्यप्रदेश उपचुनाव में वॉशिंग पाउडर की चर्चा! शिवराज और कमलनाथ बता रहें है एक दूसरे को दागदार

By Prabhat khabar Digital
Updated Date
Madhya Pradesh by Election 2020
Madhya Pradesh by Election 2020
pti photo

मध्यप्रदेश की 28 विधानसभा (Madhya Pradesh by Election 2020) सीटों पर तीन नवंबर को होने वाले उपचुनावों के पहले बयानबाजी का दौर जारी है. प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (shivraj singh chauhan) के वॉशिंग पाउडर वाले बयान का जवाब सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ (Kamal Nath) ने दिया है.

कांग्रेस नेता कमलनाथ ने ट्वीट किया कि भाजपा की हर दागदार को बेदाग बनाने वाली वाशिंग मशीन में भी वो दाग धूल नहीं सकते और दुनिया भर में ऐसी कोई भी वाशिंग मशीन अभी तक नहीं बनी है जो इन दाग़दार चेहरों के गहरे दागो को धो सके…अगले ट्वीट में उन्होंने कहा कि जो बेदाग़ थे वो बेदाग ही रहेंगे…इसकी गवाह तो वर्षों से ख़ुद जनता है और जिनके चेहरे दाग़दार है….वो हमेशा दाग़दार ही रहेंगे…इसकी गवाह भी वर्षों से ख़ुद जनता है….सही कहा आपने दाग़दार चेहरों के दाग दुनियाभर के वाशिंग पाउडर से भी धूल नहीं सकते…

क्या कहा शिवराज सिंह ने : आपको बता दें कि प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कमलनाथ (Kamal Nath) पर हमला करते हुए कहा था कि कमलनाथ जी कहते हैं कि वो बिलकुल बेदाग हैं! दाग बड़े गहरे हैं…बेनकाब चेहरे हैं…अगर दुनियाभर के वॉशिंग पाउडर भी इस्तेमाल कर लिए जाएं, तो भी वो दाग धुल नहीं सकते! इसलिए कमलनाथ जी, आप खुद को बेदाग कहना बंद करें!

14 मंत्री मैदान में : सूबे में हो रहे उपचुनाव में 14 मंत्री भी चुनावी मैदान में हैं जिसमें एदल सिंह कंषाना, सुरेश धाकड़, बृजेंद्र सिंह यादव, तुलसीराम सिलावट, गिर्राज डंडौतिया, गोविंद सिंह राजपूत, ओपीएस भदौरिया, डा. प्रभुराम चौधरी, इमरती देवी, प्रद्युम्न सिंह तोमर, राजवर्धन सिंह दत्तीगांव, महेंद्र सिंह सिसौदिया, हरदीप सिंह दांग और बिसाहूलाल सिंह शामिल हैं. इन्हें भाजपा ने टिकट दिया है.

यहां समझे गणित : मध्य प्रदेश की बात करें तो यहां कुल 230 विधानसभा सीटें है, जिनमें से 28 पर उपचुनाव कराये जा रहे हैं. वर्तमान में भाजपा के पास 107 सीटें हैं और बहुमत के लिए उसे 9 सीटों की जरूरत है. वहीं कांग्रेस के पास 88 सीटें हैं और बहुमत के लिए उसे 28 सीटों पर जीत की आवश्यकता है. लेकिन प्रदेश में यदि कांग्रेस मिली जुली सरकार के बनाने पर विचार करती है तो उसे 21 सीटों की और दरकार होगी यानी 21 सीटों पर उसे जीत दर्ज करनी ही होगी. ऐसे वक्त में बहुमत के आंकड़े से दूर होने पर सात बसपा, सपा और निर्दलीय विधायकों की भूमिका अहम हो जाएगी.

Posted By : Amitabh Kumar

Share Via :
Published Date
Comments (0)
metype

संबंधित खबरें

अन्य खबरें